नीति आयोग ने दी इस प्रोजेक्ट को मंजूरी, सरहदी पर्यटन को मिलेगा बढ़ावा

नीति आयोग ने दी इस प्रोजेक्ट को मंजूरी,  सरहदी  पर्यटन को मिलेगा बढ़ावा

जिला कलेक्टर आशीष मोदी ने इस बाबत कहा कि इस प्रोजेक्ट के तहत सरहदी पर्यटन को बढ़ावा दिया जाएगा। साथ ही सुरक्षा बल की कार्यशैली के बारे में बताया जाएगा। बॉर्डर पर सैनिक किस तरह से काम करते हैं और अपना जीवन बिताते हैं, इसे जानने का मौका सैलानियों को मिलेगा।

भारत-पाकिस्तान अंतरराष्ट्रीय सरहद पर बॉर्डर टूरिज्म को बढ़ावा देने के लिए नीति आयोग की हरी झंडी मिल गई है।  जैसलमेर में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए नीति आयोग की ओर से यह पहल की गई है। बॉर्डर टूरिज्म पर बनाए प्रोजेक्ट को नीति आयोग ने मंजूर कर लिया है।

इसे भी पढ़ें: मोदी-योगी पर अखिलेश का प्रहार, लोगों से कहा- फूल से खुशबू नहीं आती, साइकिल की रफ्तार बढ़ाना है

 जिला कलेक्टर आशीष मोदी की पहल पर सरहद पर पर्यटन को लेकर एक प्रोजेक्ट तैयार किया गया था, जिसे नीति आयोग को भेजा गया था। अब इस प्रोजेक्ट को बीएसएफ डीजी पंकज सिंह के सहयोग से पूरा किया जाएगा।

 जिला कलेक्टर आशीष मोदी ने इस बाबत कहा कि इस प्रोजेक्ट के तहत सरहदी पर्यटन को बढ़ावा दिया जाएगा। साथ ही सुरक्षा बल की कार्यशैली के बारे में बताया जाएगा। बॉर्डर पर सैनिक किस तरह से काम करते हैं और अपना जीवन बिताते हैं, इसे जानने का मौका सैलानियों को मिलेगा। उन्होंने बताया कि इस प्रोजेक्ट को आने वाले मरू महोत्सव से पहले पूरा कर लिया जाएगा।

इसे भी पढ़ें: सरकार के पास मृतक किसानों के आंकड़े नहीं होने पर भड़की कांग्रेस, पूछा- कोरोना में मृत लोगों का आंकड़ा कहां से लिया ?

जिला कलेक्टर आशीष मोदी ने कहा इस प्रोजेक्ट के तहत बबलियान सीमा चौकी पर वॉच ,टावर दर्शकों के बैठने की जगह, कैफेटेरिया आदि का निर्माण किया जाएगा। सीमा चौकी पर सुरक्षा बलों की ओर से एक रिट्रीट सेरिमनी भी की जाएगी।