Unlock 5 का 85वां दिन: कोविड-19 के कुल मामलों में उपचाराधीन मरीजों की संख्या 2.8 प्रतिशत

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  दिसंबर 24, 2020   21:27
Unlock 5 का 85वां दिन: कोविड-19 के कुल मामलों में उपचाराधीन मरीजों की संख्या 2.8 प्रतिशत

इस समय देश में कुल करीब 97 लाख लोग (96,93,173) संक्रमणमुक्त हो चुके हैं। मंत्रालय ने कहा कि इनमें से 79.56 प्रतिशत मामले 10 राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों से आए हैं।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने मंगलवार को कहा कि भारत में कोविड-19 का इलाज करा रहे लोगों की संख्या में कमी आने की जारी प्रवृत्ति से देश में संक्रमण के कुल मामलों की संख्या में उपचाराधीन मरीजों की संख्या कम होकर 2.8 प्रतिशत रह गई है। देश में इस समय 2,83,849 लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हैं और उपचाराधीन हैं। मंत्रालय ने कहा, ‘‘पिछले 24 घंटे में उपचाराधीन मरीजों की संख्या में कुल 5,391 की कमी आई है।’’ उसने कहा कि करीब एक महीने (27 दिन) बाद रोजाना संक्रमणमुक्त होने वाले लोगों की संख्या संक्रमण के दैनिक नए मामलों से अधिक हो गई है। मंत्रालय ने कहा, ‘‘देश में 24 घंटे की अवधि में केवल 24,712 लोग कोरोना वायरस संक्रमित मिले हैं। इसी अवधि में 29,791 लोग संक्रमण से उबर गये हैं और इस तरह से उपचार करा रहे रोगियों की संख्या में कमी आई है।’’ उसने कहा, ‘‘भारत में पिछले 11 दिन से लगातार रोजाना आने वाले संक्रमण के मामलों की संख्या 30,000 से कम है।’’ इस समय देश में कुल करीब 97 लाख लोग (96,93,173) संक्रमणमुक्त हो चुके हैं। मंत्रालय ने कहा कि इनमें से 79.56 प्रतिशत मामले 10 राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों से आए हैं। महाराष्ट्र में एक दिन में सर्वाधिक रोगी स्वस्थ हुए हैं जिनकी संख्या 7,620 है, जिसके बाद केरल में 4,808 और पश्चिम बंगाल में 2,153 लोग 24 घंटे की अवधि में कोरोना वायरस से उबरे हैं। मंत्रालय के अनुसार संक्रमण के नए मामलों में 76.48 प्रतिशत 10 राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों से सामने आए हैं। केरल में एक दिन में सर्वाधिक मामले सामने आए हैं जिनकी संख्या 6,169 रही। इसके बाद महाराष्ट्र में 3,913 और पश्चिम बंगाल में 1,628 संक्रमण के मामले आए हैं। देश में 24 घंटे की अवधि में कोरोना वायरस संक्रमण से 312 लोगों की मौत हुई है। मौत के नए मामलों में 79.81 प्रतिशत मामले 10 राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों से आए हैं। सर्वाधिक 93 मरीजों की मौत महाराष्ट्र में हुई। पश्चिम बंगाल में 34 और केरल में 22 लोगों की संक्रमण के कारण मृत्यु हो गई। मंत्रालय के अनुसार भारत में संक्रमण से एक दिन में मौत के मामलों में लगातार कमी आ रही है। पिछले 12 दिन से यह संख्या 400 से कम बनी हुई है। 

इसे भी पढ़ें: बिना लक्षण वाले यात्रियों के आगमन पर नहीं किया जाएगा कोरोना टेस्ट: महाराष्ट्र सरकार 

मिजोरम में कोरोना वायरस के 15 नए मरीज

मिजोरम में कोरोना वायरस के 15 और मरीजों की पुष्टि हुई है। इसके बाद बृहस्पतिवार को कुल मामले 4156 पर पहुंच गए हैं। स्वास्थ्य विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि नए मामलों में 11 आइजोल,तीन कोलासिब और एक लॉन्गतलाई जिले से है। अधिकारी ने बताया कि 10 नए मरीजों का यात्रा का इतिहास है जबकि संक्रमितों के संपर्कों का पता लगाने के दौरान तीन मामले मिले। वहीं अन्य कैसे संक्रमित हुए, इसका पता लगाया जा रहा है। उन्होंने बताया कि नए मरीजों में बीमारी के कोई लक्षण नहीं थे। मिजोरम में संक्रमण का इलाज करा रहे मरीजों की संख्या 140 है जबकि 4,008 लोग संक्रमण मुक्त हो चुके हैं। वहीं आठ संक्रमितों की मौत हो चुकी है।

कर्नाटक ने रात में कर्फ्यू लगाने के आदेश को वापस लिया  

कर्नाटक सरकार ने रात में कर्फ्यू लगाने के आदेश को बृहस्पतिवार को वापस ले लिया। ब्रिटेन में कोरोना वायरस के नए स्वरूप के मामलों के बाद ऐहतियाती कदम उठाते हुए कर्नाटक सरकार ने बृहस्पतिवार से नौ दिनों तक रात 11 बजे से सुबह पांच बजे तक कर्फ्यू लगाने का फैसला किया था। मुख्यमंत्री बी एस येदियुरप्पा ने एक बयान में कहा, ‘‘रात्रिकालीन कर्फ्यू को लेकर लोगों की राय के मद्देनजर फैसले की समीक्षा की गयी। मंत्रिमंडल के सहयोगियों और वरिष्ठ अधिकारियों से चर्चा करने के बाद रात्रिकालीन कर्फ्यू के आदेश को वापस लेने का फैसला किया गया।’’ मुख्यमंत्री ने कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए लोगों से मास्क पहनने, हाथ धोने और उचित दूरी बनाए रखने जैसे नियमों का पालन करने के साथ अत्यंत सतर्कता बरतने की अपील की है। 

इसे भी पढ़ें: कोरोना के प्रसार को रोकने के लिए उत्तराखंड सरकार का फैसला, क्रिसमस और नववर्ष पर नहीं होंगी पार्टियां 

जम्मू-कश्मीर में कोविड 19 के 291 नए मामले

जम्मू-कश्मीर में बृहस्पतिवार को कोरोना वायरस के 291 नए मरीजों पुष्टि हुई और सात संक्रमितों की मौत हो गई। अधिकारियों ने बताया कि केंद्र शासित प्रदेश में कुल मामले 1,19,344 हो गए हैं और 1860 संक्रमितों की मौत हो चुकी है। उन्होंने बताया कि नए मामलों में 147 कश्मीर से और 144 जम्मू क्षेत्र आए हैं। अधिकारियों ने बताया कि जम्मू जिले में सबसे ज्यादा 94 मरीजों की पुष्टि हुई है। इसके बाद श्रीनगर जिले में 66 मामले आए हैं। उन्होंने बताया कि प्रदेश में संक्रमण का इलाज करा रहे मरीजों की संख्या 3540 रह गई है। प्रदेश में अबतक 1,13,944 मरीज संक्रमण से उबर चुके हैं। वहीं,सात में से चार मौतें जम्मू क्षेत्र में और तीन मौतें कश्मीर में हुई है।

राजस्थान में कोरोना वायरस से आठ और लोगों की मौत

राजस्थान में बृहस्पतिवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 1001 नये मामले सामने आये। इससे अब तक राज्य में संक्रमितों की कुल संख्या 3,02,709 हो गई है। अधिकारियों ने यह जानकारी देते हुए बताया कि बृहस्पतिवार की शाम छह बजे तक के बीते 24 घंटों में राज्य में कोरोना वायरस संक्रमण से आठ और लोगों की मौत हुई हैं जिससे मरने वालों की संख्या अब बढ़कर 2650 हो गयी। राज्य में अब तक जयपुर में 494, जोधपुर में 282, अजमेर में 216, बीकानेर में 165, कोटा में 164, भरतपुर में 118, उदयपुर में 108, और पाली में 108, सीकर में 95 संक्रमितों की मौत हो चुकी हैं। उन्होंने बताया कि बुधवार को राज्य में 970 लोग कोरोना वायरस संक्रमण से ठीक हुए। इससे राज्य में अब तक कुल 2,88,388 लोग ठीक हो चुके हैं। इसके साथ ही बृहस्पतिवार को संक्रमण के 1001 नये मामले सामने आने से राज्य में इस घातक वायरस से संक्रमितों की अब तक की कुल संख्या 3,02,709 हो गयी जिनमें से 11,759 रोगी उपचाराधीन हैं। नये मामलों में से जयपुर में 175, कोटा में 113, जोधपुर में 100, अजमेर में 65, अलवर-उदयपुर में 47-47 मामले सामने आये हैं। 

इसे भी पढ़ें: योगी आदित्यनाथ ने कोरोना वायरस के नए स्वरूप के बीच अतिरिक्त सतर्कता बरतने के दिए निर्देश 

उत्तराखंड में कोरोना के 436 नए मामले

उत्तराखंड में बृहस्पतिवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 436 नए मामले सामने आये जबकि इस महामारी से 11 और मरीजों की मौत हो गई। यहां प्रदेश के स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी बुलेटिन के अनुसार 436 नये मामले सामने के साथ ही प्रदेश में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 88,376 हो गयी है। नये मामलों में से सर्वाधिक 143 देहरादून जिले में सामने आए जबकि नैनीताल में 103, हरिद्वार में 61 और उधमसिंह नगर में 12 मामले सामने आये। बुलेटिन के अनुसार बृहस्पतिवार को इस महामारी से प्रदेश में 11 और मरीजों की मौत हो गई। महामारी से अब तक प्रदेश में 1458 मरीज जान गंवा चुके हैं। प्रदेश में बृहस्पतिवार को 579 और लोग उपचार के बाद स्वस्थ हो गए। इस महामारी से अब तक कुल 80,467 लोग स्वस्थ हो चुके हैं और उपचाराधीन मरीजों की संख्या 5,331 है। बुलेटिन के अनुसार कोविड-19 के 1120 मरीज प्रदेश से बाहर चले गए हैं।

बिहार में कोरोना से चार और मरीजों की मौत

बिहार में कोरोना वायरस संक्रमण के कारण पिछले 24 घंटे के दौरान चार और मरीजों की मौत हो जाने से इससे मरने वालों की संख्या बृहस्पतिवार को बढ़कर 1371 पहुंच गई। स्वास्थ्य विभाग से प्राप्त जानकारी के मुताबिक बिहार में पिछले 24 घंटे के दौरान कोरोना वायरस संक्रमण से मधेपुरा, नालंदा, पूर्णिया तथा सिवान जिले में एक-एक मरीज की मौत हो जाने के साथ प्रदेश में इस रोग से संक्रमित होकर मरने वालों की संख्या बृहस्पतिवार को बढ़कर 1371 हो गयी। विभाग के अनुसार बिहार में बुधवार की शाम चार बजे से बृहस्पतिवार की शाम चार बजे तक कोरोना वायरस संक्रमण के 668 नए मामले प्रकाश में आने के साथ इससे संक्रमित होने वालों की संख्या अब तक 2,49,336 पहुंच गयी है। बिहार में पिछले 24 घंटे के भीतर 1,18,228 नमूनों की जांच की गयी और कोरोना वायरस संक्रमित 522 मरीज ठीक हुए। इसके अनुसार राज्य में अब तक 1,74,53,751 नमूनों की जांच की गयी है। राज्य में अब तक 2,42,766 लोग ठीक हुए हैं। विभाग के अनुसार बिहार में वर्तमान में कोविड-19 के उपराचाराधीन मरीजों की संख्या 5198 है।

ब्रिटेन से पंजाब आए 216 लोगों को पृथक-वास में भेजा जाएगा

ब्रिटेन से 22 दिसंबर को एक उड़ान से आए 216 यात्रियों को संस्थागत पृथक-वास में रखा जाएगा। इस उड़ान के सात यात्रियों और चालक दल के एक सदस्य में संक्रमण की पुष्टि होने के बाद उनके संपर्क में आए बाकी यात्रियों को पृथक-वास में भेजने का फैसला किया गया है। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने बृहस्पतिवार को इस बारे में बताया। उन्होंने बताया कि यात्री अमृतसर समेत अलग-अलग जिलों के हैं और उन्हें उनके घरों से संस्थागत पृथक-वास में ले जाया जाएगा। लंदन से एअर इंडिया की उड़ान मंगलवार को अमृतसर के श्री गुरु रामदासजी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर आयी थी। इसमें 250 यात्री और चालक दल के 22 सदस्य थे। जांच में आठ लोगों में संक्रमण की पुष्टि हुई थी। अधिकारियों ने बताया कि मंगलवार को सभी लोगों की जांच की गयी और आठ लोग संक्रमित पाए गए। पंजाब सरकार के दिशा-निर्देश के तहत अधिकतम सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए संपर्क में आए 216 यात्रियों को भी पृथक-वास में भेजने का फैसला किया गया। ब्रिटेन में कोरोना वायरस का नया स्वरूप मिलने के बाद भारत ने 31 दिसंबर तक ब्रिटेन के लिए सभी यात्री उड़ानों पर रोक लगा दी है। सिविल सर्जन डॉ. रवींद्र सिंह सेठी ने बृहस्पतिवार को बताया, ‘‘आरटी-पीसीआर जांच में चालक दल के एक सदस्य समेत आठ लोग संक्रमित पाए गए। उन सबको निजी अस्पताल में भेज दिया गया। उनके नमूनों को आगे जांच के लिए पुणे की प्रयोगशाला में भेजा गया है।’’ उन्होंने कहा कि 216 यात्रियों में 10 यात्री अमृतसर के थे और उन्हें पृथक-वास केंद्र में भेजा गया। सेठी ने कहा कि दूसरे जिलों के यात्रियों के बारे में संबंधित जिलों के सिविल सर्जन को सूचना दे दी गयी है।    





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।