पाचन तंत्र को दुरूस्त रखता है नारियल पानी, जानें इसके फायदे

coconut water
unsplash
मिताली जैन । May 18, 2022 1:03PM
गर्मी के दिनों में पेट में जलन व एसिडिटी होना एक बेहद आम समस्या है। अगर आपको भी अक्सर यह समस्या होती है तो ऐसे में नारियल का पानी यकीनन आपको राहत दे सकता है। दरअसल, यह क्षारीय है और आपके पीएच संतुलन को सामान्य कर सकता है।

गर्मी के मौसम में जब शरीर की तरल पदार्थों की जरूरतें बढ़ जाती हैं। ऐसे में नारियल पानी पीने की विशेष रूप से सलाह दी जाती है। कैलोरी मुक्त होने के कारण यह ना सिर्फ वजन को नियंत्रित करने में मददगार है, बल्कि इसके कारण गर्मी के दिनों में आपका पाचन तंत्र भी दुरूस्त रहता है। यह पाचन तंत्र के लिए किसी चमत्कार से कम नहीं है। तो चलिए आज हम आपको बता रहे हैं कि नारियल पानी किस तरह पाचन तंत्र को लाभ पहुंचाता है−

इसे भी पढ़ें: जानिए क्या हैं किडनी स्टोन को निकालने के नेचुरल उपाय

वाटर रिंटेशन प्रॉब्लम्स को करें दूर

हेल्थ एक्सपर्ट बताते हैं कि नारियल पानी के सेवल का एक सबसे बड़ा लाभ यह होता है कि यह वाटर रिंटेशन प्रॉब्लम्स को दूर करने में सहायक है। दरअसल, नारियल पानी में पोटेशियम प्रचुर मात्रा में होता है, जो आपके शरीर से अतिरिक्त पानी को बाहर निकाल सकता है। इस तरह यह ना सिर्फ आपकी बॉडी को डिटॉक्स करता है, बल्कि वजन घटाने और वाटर रिंटेशन प्रॉब्लम्स को दूर करने में भी प्रभावी तरीके से काम करता है। 

कब्ज में कारगर

गर्मी के दिनों में पाचन संबंधी समस्याएं लोगों को परेशान करती हैं। ऐसे में नारियल पानी का सेवन यकीनन आपके लिए बेहद लाभदायक होगा। दरअसल, नारियल पानी पेट साफ करता है, पचने में आसान है। इससे एक लाभ यह होता है कि आपको कब्ज से बचाता है और पाचन प्रक्रिया को दुरूस्त बनाता है। खासतौर से, यह उन लोगों के लिए बहुत अच्छा है जो किसी बीमारी या सर्जरी से उबर रहे हैं क्योंकि इसमें इलेक्ट्रोलाइट्स, विटामिन और खनिज प्रचुर मात्रा में पाया जाता है।

इसे भी पढ़ें: Nose Bleeding in Summer's: गर्मियों में अगर आपकी नाक से भी बहने लगता है खून तो तुरंत आजमाएं ये उपाय

एसिडिटी को कहें नो

हेल्थ एक्सपर्ट के अनुसार, गर्मी के दिनों में पेट में जलन व एसिडिटी होना एक बेहद आम समस्या है। अगर आपको भी अक्सर यह समस्या होती है तो ऐसे में नारियल का पानी यकीनन आपको राहत दे सकता है। दरअसल, यह क्षारीय है और आपके पीएच संतुलन को सामान्य कर सकता है। इसी तरह, यदि आपने पेट के फ्लू या गैस्टि्रक बीमारियों से आपके शरीर में तरल की मात्रा कम हो गई है, तो यह आपके शरीर की पानी की मात्रा को फिर से भरने में मदद कर सकता है।

मिताली जैन

अन्य न्यूज़