डायबिटीज को मैनेज करने में मदद करते हैं यह घरेलू नुस्खे

diabetes
मिताली जैन । Mar 20, 2022 11:09AM
आम के पत्तों के सेवन से भी मधुमेह को नियंत्रित करने में मदद मिलती है। इसके सेवन के लिए आपको बस इतना करना है कि आम के कुछ ताजे पत्तों को एक गिलास पानी में उबाल लें और रात भर ठंडा होने के लिए छोड़ दें। अगली सुबह खाली पेट पानी पिएं।

आज के समय में घर-घर में मधुमेह की बीमारी ने अपनी पैठ बना ली है। यह एक ऐसी स्वास्थ्य समस्या है, जिसमें व्यक्ति के ब्लड में शुगर लेवल हाई रहता है। रक्त में बहुत अधिक ग्लूकोज होने से व्यक्ति को कई तरह की स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं हो सकती हैं‎। हालांकि, भोजन से प्राप्त होने वाला ग्लूकोज ऊर्जा का प्रमुख स्रोत है, जो इंसुलिन नामक हार्मोन की मदद से कोशिकाओं में प्रवेश करता है और यह शरीर की कार्यप्रणाली को सुचारू रूप में चलाने में मददगार है। 

इसे भी पढ़ें: पेट दर्द से ना हों परेशान, बस अपनाएं यह उपाय

वहीं, जब कोई व्यक्ति मधुमेह से पीड़ित होता है तो शरीर ठीक तरह से इंसुलिन नहीं बनाता है और इस प्रकार ग्लूकोज शरीर की कोशिकाओं में प्रवेश करने में विफल रहता है और रक्त में रहता है। जिसके कारण ब्लड में शुगर की बढ़ी हुई मात्रा के कारण आंखों की क्षति, गुर्दे की क्षति, हृदय रोग आदि जैसी समस्याएं पैदा कर सकता है। तो चलिए आज इस लेख में हम आपको मधुमेह को नियंत्रित करने के कुछ आसान घरेलू उपायों के बारे में बता रहे हैं-

आम के पत्ते आएंगे काम

आम के पत्तों के सेवन से भी मधुमेह को नियंत्रित करने में मदद मिलती है। इसके सेवन के लिए आपको बस इतना करना है कि आम के कुछ ताजे पत्तों को एक गिलास पानी में उबाल लें और रात भर ठंडा होने के लिए छोड़ दें। अगली सुबह खाली पेट पानी पिएं।

करेले का करें सेवन

करेला स्वाद में भले ही कड़वा हो, लेकिन यह मधुमेह रोगियों के लिए रामबाण की तरह काम करता है। दरअसल, इसमें चारैटिन और मोमोर्डिसिन नामक कंपाउंड पाए जाते हैं, जो व्यक्ति के ब्लड शुगर लेवल को मैनेज करने में मददगार होते हैं। आप करेले का जूस हर दिन सुबह के समय पी सकते हैं।

इसे भी पढ़ें: मेनोपॉज के दौरान होने वाले जोड़ों के दर्द से निजात दिलाते हैं यह घरेलू उपाय

आंवला से होगा फायदा

आंवला को विटामिन सी के सबसे समृद्ध स्रोतों में से एक माना जाता है। यह आपके पैनक्रियाज को बेहतर तरीके से काम करने में मदद करता है ताकि आपके रक्त शर्करा का स्तर संतुलित रहे। आप आंवला के जूस से लेकर उसे अपने आहार में कई तरीकों से शामिल कर सकते हैं।

मेथी है लाभकारी 

मेथी के छोटे-छोटे दाने बड़ी-बड़ी स्वास्थ्य समस्या को हल करने का माद्दा रखते हैं। अगर मधुमेह के रोगी इनका नियमित सेवन करते हैं तो उन्हें इंसुलिन रेसिस्टेंस को कम करने में मदद मिलती है, जिससे रक्त शर्करा का स्तर कम होता है। आप ना केवल इसे सब्जी में इस्तेमाल कर सकते हैं। बल्कि रात को सोने से पहले मेथी के दानों को पानी में भिगो दें और अगली सुबह पानी व मेथी का सेवन करें।

मिताली जैन

अन्य न्यूज़