बच्चों में बुखार की समस्या को दूर करने के लिए कुछ इस तरह इस्तेमाल करें हींग

बच्चों में बुखार की समस्या को दूर करने के लिए कुछ इस तरह इस्तेमाल करें हींग

हींग की पट्टी बनाने के लिए आप एक पतला कपड़ा या कागज लें। अब एक चम्मच में थोड़ा पानी लेकर उसमें एक चुटकी हींग को डालकर अच्छी तरह मिक्स करें। अब पतले कपड़े या कागज को इस हींग के पानी में भिगोएं और इस पट्टी को बच्चे के सिर के उपर लगाएं और कुछ देर के लिए ऐसे ही छोड़ दें।

हींग भारतीय किचन का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है। अमूमन सब्जी में तड़का लगाने के लिए हम सभी हींग का इस्तेमाल करते हैं। वैसे यह भोजन में गजब का स्वाद और महक तो जोड़ता है ही, साथ ही यह स्वास्थ्य के लिए भी बेहद लाभदायक है। आमतौर पर पेट की कई समस्याओं को दूर करने के लिए हींग का इस्तेमाल किया जाता है। इतना ही नहीं, यह बच्चों के पेट का भी ख्याल रखता है। हालांकि यह केवल पाचन तंत्र के लिए ही बेहतर तरीके से काम नहीं करता, बल्कि अन्य भी कई स्वास्थ्य समस्याओं को दूर करता है। खासतौर से, अगर बच्चों में बुखार की समस्या है तो ऐसे में हींग की पट्टी बनाकर उनके बुखार को कम किया जा सकता है। तो चलिए जानते हैं इसके बारे में-

यूं करें इस्तेमाल

हींग की पट्टी बनाने के लिए आप एक पतला कपड़ा या कागज लें। अब एक चम्मच में थोड़ा पानी लेकर उसमें एक चुटकी हींग को डालकर अच्छी तरह मिक्स करें। अब पतले कपड़े या कागज को इस हींग के पानी में भिगोएं और इस पट्टी को बच्चे के सिर के उपर लगाएं और कुछ देर के लिए ऐसे ही छोड़ दें। सामान्य अवस्था में बच्चे का बुखार धीरे-धीरे कम होने लगेगा। आप एक-दो माह के बच्चे के माथे पर भी यह हींग की पट्टी लगा सकते हैं।

हैं कई अन्य फायदें

हींग सिर्फ बुखार कम करने में ही मददगार नहीं है, बल्कि इसकी वजह से आप बच्चे की कई स्वास्थ्य समस्याओं को सुलझा सकते हैं। मसलन, अगर बच्चे के पेट में गैस हो गई है और इस वजह से उसे पेट में दर्द हो रहा है तो ऐसे में आप हींग को पानी मिलाकर बच्चे के नाभि के चारों ओर लगाएं। इससे उसे काफी आराम मिलेगा।

रखें इसका ध्यान

यह हींग की पट्टी सामान्य बुखार को कम करने में ही मददगार है। लेकिन अगर बच्चे का बुखार कम नहीं हो रहा है तो ऐसे में आपको तुरंत डाॅक्टर की सलाह लेनी चाहिए। इन दिनों बुखार होने के कई  कारण हो सकते हैं। इसलिए बच्चे की सेहत के साथ किसी भी तरह की कोताही ना बरतें।

- मिताली जैन







This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept