गर्मी का मौसम में बनाएं मैंगो मिल्कशेक, जानिए इसकी विधि

गर्मी का मौसम में बनाएं मैंगो मिल्कशेक, जानिए इसकी विधि

आम को ब्लेंड करते समय सिर्फ चीनी और बर्फ की डालें। दूध बिल्कुल न डालें व आम पीसते समय बर्फ डालने से यह एकदम झागदार व बाजार जैसा बनता है। आप आम के मीठेपन के हिसाब से चीनी को कम या ज्यादा कर सकते हैं।

गर्मी के मौसम में तपती धूप भले ही किसी को अच्छी न लगती हो लेकिन इस मौसम में लोग एक चीज के दीवाने होते हैं और वह है आम। आम को फलों का राजा यूं ही नहीं कहा जाता। इसका लाजवाब स्वाद हर किसी के दिल को भाता है। आम को यूं तो लोग कई तरह से खाते हैं, लेकिन अगर आप चाहें तो इसकी मदद से मैंगो मिल्कशेक भी बना सकते हैं। बनने में बेहद आसान इस ड्रिंक का स्वाद में कोई सानी नहीं है। तो चलिए जानते हैं इसके बारे में−

इसे भी पढ़ें: घर पर ही झटपट तैयार करें बच्चों के लिए आलू स्माइली, जानिए रेसिपी

सामग्री−

दो मीडियम साइज कटे हुए आम

500 एमएल ठंडा दूध

सात से आठ बर्फ के टुकड़े

दो से तीन टेबलस्पून चीनी

वनिला आईसक्रीम अगर चाहें तो

कटे हुए बादाम व किशमिश अगर चाहें तो

विधि− 

ठंडा−ठंडा मैंगो मिल्क शेक बनाने के लिए सबसे पहले मिक्सर का सबसे बड़ा जार लें। अब इसमें आम, चीनी व आईसक्यूब्स डालकर स्मूद पेस्ट कर लें। ध्यान रखें कि इस दौरान आपको दूध नहीं डालना है। वरना आम अच्छी तरह नहीं पिसते हैं। 

जब आम का पेस्ट बन जाएं तो इसमें दूध डालकर दोबारा अच्छे से ब्लेंड करें। इसके बाद मिक्सी का स्विच ऑफ करें।

इसे भी पढ़ें: सुबह के नाश्ते में बनाएं मिक्स दाल का ढोसा, जानिए इसकी विधि

अब सर्विंग गिलास लें और फिर तैयार मिल्क शेक को गिलास में डालें। अब आप इसके ऊपर वनीला आईसक्रीम डालें व किशमिश व बारीक कटे काजू, बादाम से सजाएं। आपका ठंडा−ठंडा स्वादिष्ट मिल्क शेक तैयार है।

यूजफुल टिप्सः मिल्क शेक बनाते समय आम का छिलका अच्छी तरह हटाना बेहद जरूरी है, वरना पीते समय यह मुंह में आता है, जिससे सारा स्वाद खराब हो जाता है।

आम को ब्लेंड करते समय सिर्फ चीनी और बर्फ की डालें। दूध बिल्कुल न डालें व आम पीसते समय बर्फ डालने से यह एकदम झागदार व बाजार जैसा बनता है।

इसे भी पढ़ें: घर पर स्नैक्स में इस तरह तैयार करें वेज सोया कबाब

आप आम के मीठेपन के हिसाब से चीनी को कम या ज्यादा कर सकते हैं।

हमने इस रेसिपी में चार लोगों के लिए मिल्कशेक बनाया है। आप अपनी जरूरत के हिसाब से क्वाटिंटी कम या ज्यादा कर सकती हैं।

मिताली जैन