रात को ठहाके लगाती हैं बिहार के इस मंदिर की देवियां

By कमल सिंघी | Publish Date: Apr 29 2019 12:40PM
रात को ठहाके लगाती हैं बिहार के इस मंदिर की देवियां
Image Source: Google

इस मंदिर के बारे में कहा जाता है कि यहां देवियां रात को बातें करती हैं। आपस में होने वाला इनका ये वार्तालाप कई बार हंसी और ठहाकों में भी बदल जाता है। आज के युग में ये बातें कुछ अजीब लगती हैं, लेकिन ये सच है। मंदिर के नजदीक से रात में जो भी व्यक्ति निकलता है वह उनकी आवाज को आसानी से सुन सकता है।

भोपाल। दुनिया में चमत्कारों और रहस्यों की कहीं भी कमी नही है। एक से बढ़कर एक हमारे आसपास ही मिल जाते हैं। आज आपको एक ऐसे ही बेहद लाजवाब रहस्य की ओर लेकर चलते हैं। माता राजेश्वरी का मंदिर बिहार में स्थित है। यहां परिसर में कुछ और भी देवियां हैं जिनमें बगलामुखी माता, तारा माता, काली, कमला, उग्र तारा, छिन्नमाता, धुमावती, शोडषी सहित दस महाविद्यायाएं निवास करती हैं।


इसके अतिरिक्त भगवान गणेश, भैरव, शिव का मंदिर भी बना हुआ है। इस स्थान को लेकर होने वाले चमत्कार लगभग पूरी दुनिया में फेमस हैं। जिसकी वजह से यहां दूर-दूर से भक्त माता के दर्शनों के लिए आते हैं, लेकिन यहां की खूबियों को जानने के बाद भी कभी भी कोई यहां रात में रुकने की हिम्मत नही जुटा पाता, हालांकि मंदिर के संबंध में प्रसिद्ध है कि यहां पूरे मन और सच्ची श्रद्धा से जो भी कामना की जाती है वह जरुर ही पूरी होती है। तो चलिए आपको ले चलते हैं इस मंदिर के उस रहस्य की ओर जिसके बाद में शायद ही आपने सुना होगा।
 
हंसी और जोरदार ठहाकों की भी आवाज
इस मंदिर के बारे में कहा जाता है कि यहां देवियां रात को बातें करती हैं। आपस में होने वाला इनका ये वार्तालाप कई बार हंसी और ठहाकों में भी बदल जाता है। आज के युग में ये बातें कुछ अजीब लगती हैं, लेकिन ये सच है। मंदिर के नजदीक से रात में जो भी व्यक्ति निकलता है वह उनकी आवाज को आसानी से सुन सकता है। कई बार लोगों ने मंदिर से आने वाली हंसी की आवाज भी सुनी है। जिसके संबंध में कहा जाता है कि देवियां यहां आपस में बातें करती हैं।



अंदर जाकर देखा तो...
हालांकि इस रहस्य को जानने वाले और आवाज सुनने वालों ने मंदिर के अंदर जाकर देखा तो किसी तरह की कोई परछाई तक महसूस नही हुई और जब बाहर आए तो फिर उसी आवाज ने लोगों को चैंकाया, हालांकि इससे कभी किसी को कोई नुकसान नही पहुंचा। ये आवाजें बिलकुल वैसी ही होती है जैसी इंसानों की आवाज आपस में बात करने पर आती है।
स्थानीय लोगों के लिए आम बात
मंदिर में सैकड़ों भक्त दर्शनों के लिए आते हैं कई बार लोग रात के वक्त आवाज सुनने की भी कोशिश करते हैं जो कि स्पष्ट तौर पर सुनने मिलती हैं। रात्रि में किसी के भी न होने पर यहां अपने आप ही चमत्कार होने लगता है जो कि सभी के लिए आश्चर्य का विषय है हालांकि अब स्थानीय लोगों के लिए ये कुछ नया नही है, यह आम बात हो चुकी है और वे इसे एक अनोखा चमत्कार और उनके नगर पर मां की असीम कृपा मानते हैं। इस मंदिर को लेकर स्थानीय लोगों की बड़ी आस्था है।
 
- कमल सिंघी

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   



Disclaimer: The views expressed here are solely those of the author in his/her private capacity and do not necessarily reflect the opinions, beliefs and viewpoints of Prabhasakshi and do not in any way represent the views of Prabhasakshi.