कंगना रनौत ने कहा, मेरे दुश्मन खुद ही खुद को कर रहे हैं बेपर्दा

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Jul 3 2019 2:23PM
कंगना रनौत ने कहा, मेरे दुश्मन खुद ही खुद को कर रहे हैं बेपर्दा
Image Source: Google

यह पूछे जाने पर कि क्या वह और भी लोगों को बेनकाब करेंगी, इस पर अभिनेत्री ने कहा कि इस संबंध में उनकी राय अलग है। कंगना ने मंगलवार को पत्रकारों के साथ बातचीत में कहा कि ऐसा नहीं है कि मैं किसी का पर्दाफाश करती हूं।

मुंबई। कंगना रनौत का कहना है कि अपने दुश्मनों का पर्दाफाश करने के लिये वह कुछ करें इसके बजाय वे खुद ही अपनी कलई खोल रहे हैं। इतने साल में अभिनेत्री भाई-भतीजावाद से लेकर राजनीतिक समझ की कमी के मुद्दों पर सार्वजनिक रूप से करण जौहर, रणबीर कपूर और आलिया भट्ट समेत बॉलीवुड के कई दिग्गज लोगों के खिलाफ बोल चुकी हैं। अभिनेता ऋतिक रोशन के साथ सार्वजनिक विवाद की कंगना की खबर ने भी सुर्खियां बटोरीं। 

इसे भी पढ़ें: कारण चाहे जो रहा हो, जायरा तुमने लाखों किशोरियों का आत्मविश्वास हिला दिया

यह पूछे जाने पर कि क्या वह और भी लोगों को बेनकाब करेंगी, इस पर अभिनेत्री ने कहा कि इस संबंध में उनकी राय अलग है। कंगना ने मंगलवार को पत्रकारों के साथ बातचीत में कहा कि ऐसा नहीं है कि मैं किसी का पर्दाफाश करती हूं। कई बार तो लोग खुद को ही बेनकाब कर देते हैं। मैं इसे बहुत हल्के में लेती हूं, मैं आम समझ की बात करती हूं। जैसा मैंने अपने दुश्मनों के बारे में बताया, उन्हें मेरी क्या जरूरत है, बल्कि वे तो अपनी ही कलई खोलने के लिये कड़ी मशक्कत करते हैं।

इसे भी पढ़ें: अली अब्बास की टाइगर 3 में एक बार फिर सलमान और कटरीना होंगे साथ



वह अपनी अगली फिल्म ‘जजमेंटल है क्या’ के ट्रेलर लॉन्च के मौके पर बोल रही थीं। प्रकाश कोवेलामुदी निर्देशित इस फिल्म में राजकुमार राव भी हैं और फिल्म 26 जुलाई को रिलीज होने वाली है। कंगना और ऋतिक ने एक दूसरे को 2016 में कानूनी नोटिस भेजा था। कंगना का दावा था कि वे दोनों संबंध में थे और ऋतिक ने उनसे शादी का वादा किया था। ऋतिक ने इस बात से इनकार किया और कहा कि उन दोनों ने सिर्फ साथ में काम किया है। उन्होंने यह भी कहा कि इस बात के लिये कंगना को उनसे सार्वजनिक रूप से माफी मांगनी चाहिए।

इसे भी पढ़ें: जायरा का निर्णय उनके धर्म के लिये अहितकारी व लोगों के मन में गलत धारणा बनाने वाला कदम: प्रियंका

कंगना ने यह भी कहा कि 2016-2017 के बीच का वो दौर उनके लिये बहुत मुश्किल भरा था, जब उन्हें शर्मिंदगी झेलनी पड़ी और उन्हें मानसिक रूप से अस्थिर कहा गया। उन्होंने कहा कि जब कनिका ढिल्लों (लेखिका) ने मुझे इस भूमिका के बारे में बताया तो मुझे लगा यह मेरी ही कहानी है। अगर मेरे जीवन में वो दौर नहीं आया होता और मैं ये कहानी सुनती तो हो सकता है मैं किसी लड़की को मानसिक रूप से अस्थिर कहे जाने को मुद्दा नहीं मानती। शुरू में फिल्म का नाम ‘मेंटल है क्या’ था, लेकिन इंडियन साइकियाट्रिक सोसाइटी (आईपीएस) के सदस्यों द्वारा इस नाम को लेकर आपत्ति जताये जाने के बाद फिल्म के निर्माता बालाजी टेलीफिल्म्स ने इसके नाम को बदलकर इसे ‘जजमेंटल है क्या’ कर दिया।

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Video