सुशांत को न्याय दिलाने के लिए फिर सुब्रमण्यम स्वामी ने पीएम मोदी को लिखा खत, पढ़ें लेटर की अहम बातें

सुशांत को न्याय दिलाने के लिए फिर सुब्रमण्यम स्वामी ने पीएम मोदी को लिखा खत, पढ़ें लेटर की अहम बातें

भाजपा के राज्यसभा सदस्य सुब्रमण्यम स्वामी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में सीबीआई और अन्य केंद्रीय एजेंसियों से विस्तृत जांच कराने की मांग की है।

नयी दिल्ली। बीजेपी नेता सुब्रमण्यम स्वामी हमेशा से ही अपने बेबाक बयानों के लिए जाने जाते हैं। सुब्रमण्यम स्वामी राजनेता के साथ साथ कानून के भी अच्छे जानकार  हैं। सुशांत सिंह राजपूत के केस में वह अक बड़ी भूमिका निभा रहे हैं। सुशांत केस के लिए उन्होंने वकील का चयन करवाया साथ ही प्रधानमंत्री को लेटर लिख कर सीबीआई जांच की भी मांग की। सुशांत के केस में वह शुरू से ही साजिश बता रहे हैं। अब सुशांत सिंह राजपूत के केस में बीजेपी नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने हत्या का शक जताया है। बीजेपी नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने सोशम मीडिया पर सुशांत के केस से जुड़े 26 प्वाइंट शेयर किए है जो ये दावा करते है कि सुशांत ने आत्महत्या नहीं  की बल्कि उनकी हत्या की गयी हैं। अब एक बार फिर सुशांत के केस की सीबीआई को सौंपने की मांग करते हुए स्वामी ने पीएम मोदी को खत लिखा हैं।

इसे भी पढ़ें: रिया चक्रवर्ती की याचिका में सुशांत के पिता के बाद अब बिहार सरकार ने कैविएट दायर की 

भाजपा के राज्यसभा सदस्य सुब्रमण्यम स्वामी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में सीबीआई और अन्य केंद्रीय एजेंसियों से विस्तृत जांच कराने की मांग की है। अभिनेता का शव गत 14 जून को मुंबई स्थित उनके अपार्टमेंट में फंदे से लटका मिला था। स्वामी ने प्रधानमंत्री को लिखे अपने पत्र में आरोप लगाया है कि अभिनेता की मृत्यु आत्महत्या नहीं बल्कि हत्या का मामला है। उन्होंने कहा कि राजपूत के पिता की शिकायत पर बिहार पुलिस द्वारा पटना में एक प्राथमिकी दर्ज किए जाने के बाद सीबीआई जांच ‘‘और भी आवश्यक’’ हो गई है। इस मामले की जांच मुंबई पुलिस भी कर रही है।

स्वामी ने कहा, ‘‘इस प्रकार, अब दो राज्य सुशांत सिंह राजपूत की अप्राकृतिक मृत्यु की दुखद घटना से उत्पन्न हुए एक ही मामले की जांच कर रहे हैं। इसलिए, यह न्याय के व्यापक हित में है कि एक ही जाँच होनी चाहिए ...।’’ यह, इस मामले में राज्यसभा सदस्य स्वामी द्वारा प्रधानमंत्री मोदी को लिखा गया दूसरा पत्र है। स्वामी ने कहा कि उन्होंने पत्र के साथ एक तालिका भी संलग्न की है, जिसमें उन्होंने ‘‘24 कारण दिये हैं कि सुशांत सिंह राजपूत की रहस्यमय मौत वास्तव में एक हत्या है, आत्महत्या नहीं।’’ स्वामी ने दावा किया कि अभिनेता की ‘‘असामयिक मृत्यु से जुड़े पर्याप्त बहु-आयामी मुद्दे’’ हैं, जिनकी ‘‘एनआईए और ईडी (प्रवर्तन निदेशालय) के साथ सीबीआई द्वारा संयुक्त जांच’’ कराए जाने की आवश्यकता है।

 

उन्होंने आरोप लगाया कि राजपूत के ‘‘विरोधियों’’ के आतंकी संबंध और धनशोधन उनकी मौत के कारक प्रतीत होते हैं। स्वामी ने लिखा, ‘‘मुझे लगता है कि व्यापक राष्ट्रीय हित में, आपके हस्तक्षेप की आवश्यकता है और मैं आपसे अनुरोध करता हूं कि यह सुनिश्चित करने के लिए आवश्यक कदम उठाएं कि व्यापक राष्ट्रीय- सामाजिक, राजनीतिक और सुरक्षा हितों में एक गहन जांच की जाए जैसा ऊपर सुझाया गया है।

बीजेपी नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने यह भी दावा किया जिस कपड़े से सुशांत के फांसी लगाने का दावा किया जा रहा है उससे मुमकिन नहीं है फांसी को लगा पाना। सुशांत के कमरे से कोई स्टूल नहीं मिला है, सीसीटीवी भी नहीं थे साथ ही कमरे की एक चाभी भी गायब थी। यह सब इत्तेफाक नहीं है। सुशांत की हत्या कि गयी है। उन्होंने मुंबई पुलिस की जांच पर भी सवाल उठाए हैं। स्वामी के इन दावों में कितनी सच्चाई है ये तो जांच के बाद ही पता चलेगी।