• यूएई में करीब 200 भारतीय कर्मचारियों को मिलेगा बकाया वेतन

समाचारपत्र ने अबू धाबी स्थित भारतीय दूतावास की प्रथम सचिव (सामाजिक मामले) पूजा वेरनेकर के हवाले से कहा, ‘‘मुद्दा जल्द सुलझ जाएगा। उन्हें उनका बकाया वेतन, हवाई टिकट और रद्द किया गया वीजा अगले सप्ताह तक मिलने की उम्मीद है।’’

दुबई। भारतीय दूतावास के हस्तक्षेप के बाद संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) में करीब 200 भारतीय कर्मचारियों को उनका वेतन मिलने और उनके स्वदेश वापस लौटने की उम्मीद बंध गई है। यह जानकारी मंगलवार को मीडिया की एक खबर में दी गई। ‘खलीज टाइम्स’ की खबर के अनुसार ये भारतीय कर्मचारी उन 300 कर्मचारियों में से हैं जिसमें बांग्लादेश, पाकिस्तान, नेपाल, श्रीलंका, फिलीपीन और मिस्र के भी कर्मचारी हैं। ये सभी अल वसीता एमिरेट्स कैटरिंग सर्विसेज में कार्य करते हैं और उन्हें महीनों से उनका वेतन नहीं मिला है।

इसे भी पढ़ें: क्या अब इमरान खान को कश्मीर मुद्दे पर सऊदी और UAE का मिलेगा साथ?

समाचारपत्र ने अबू धाबी स्थित भारतीय दूतावास की प्रथम सचिव (सामाजिक मामले) पूजा वेरनेकर के हवाले से कहा, ‘‘मुद्दा जल्द सुलझ जाएगा। उन्हें उनका बकाया वेतन, हवाई टिकट और रद्द किया गया वीजा अगले सप्ताह तक मिलने की उम्मीद है।’’ कर्मचारी अपना वेतन मिलने को लेकर आश्वस्त हैं क्योंकि इसकी पुष्टि भारतीय दूतावास की ओर से की गई है। 

इसे भी पढ़ें: PM मोदी को मिला सर्वोच्च सम्मान तो जल-भुन गया पाकिस्तान, विदेश मंत्री ने कही ये बात

एक एशियाई कर्मचारी के हवाले से कहा गया, ‘‘हम यह कुछ समय से सुन रहे हैं कि चीजें ठीक हो जाएंगी। हम बिना भोजन या घर भेजने के लिए धनराशि के बिना जिस मानसिक तनाव से गुजर रहे हैं उसे समझा पाना मुश्किल है। चूंकि भारतीय दूतावास ने इसकी पुष्टि की है, हम इसको लेकर आशान्वित हैं। इंशा अल्लाह, मैं उम्मीद करता हूं कि यह सच होगा।’’ बहुसंख्यक भारतीय कर्मचारी केरल से हैं और वे इसको लेकर खुश हैं कि उन्हें ओणम खुशी से मनाने का मौका मिलेगा।