किसानों द्वारा 1,500 से अधिक मोबाइल टावरों को निशाना बनाए जाने की COAI ने की कड़ी निंदा

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  दिसंबर 29, 2020   18:12
किसानों द्वारा 1,500 से अधिक मोबाइल टावरों को निशाना बनाए जाने की COAI ने की कड़ी निंदा

सेल्युलर ऑपरेटर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया (सीओएआई)के महानिदेशक एसपी कोचर ने दूरसंचार सेवाओं को लाखों लोगों की जीवन रेखा बताते हुए कहा कि दूरसंचार सेवाएं बाधित होने से आम आदमियों को काफी असुविधा हो रही है, जिनके लिये मोबाइल सेवाएं आवश्यक हैं।

नयी दिल्ली। दूरसंचार उद्योग के संगठन सीओएआई ने पंजाब में किसानों के विरोध प्रदर्शन के दौरान 1,500 से अधिक मोबाइल टावरों को निशाना बनाये जाने की मंगलवार को कड़ी निंदा की। संगठन ने कहा कि विरोध प्रदर्शन के नाम पर दूरसंचार नेटवर्क के बुनियादी ढांचे के साथ तोड़फोड़ और सेवाओं में व्यवधान निंदनीय है। सेल्युलर ऑपरेटर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया (सीओएआई)के महानिदेशक एसपी कोचर ने दूरसंचार सेवाओं को लाखों लोगों की जीवन रेखा बताते हुए कहा कि दूरसंचार सेवाएं बाधित होने से आम आदमियों को काफी असुविधा हो रही है, जिनके लिये मोबाइल सेवाएं आवश्यक हैं।

इसे भी पढ़ें: एक जनवरी से कारों की कीमत में होगा उछाल, जानिए किन कारों की कीमत बढ़ेगी?

सीओएआई ने एक बयान में कहा,‘‘हालांकि हम किसी भी मुद्दे पर लोगों के अधिकार का सम्मान करते हैं, लेकिन विरोध प्रदर्शन के नाम पर दूरसंचार नेटवर्क के बुनियादी ढांचे में तोड़फोड़और दूरसंचार सेवाओं को बाधित करने की कड़ी निंदा की जाती है।’’ सीओएआई के सदस्यों में रिलायंस जियो, भारती एयरटेल और वोडाफोन आइडिया शामिल हैं। उल्लेखनीय है कि तीन नये कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसानों के द्वारा पंजाब में 1,500 से अधिक दूरसंचार टावरों को क्षतिग्रस्त कर दिया गया। इससे कुछ क्षेत्रों में दूरसंचार सेवाएं ठप्प हो गयीं।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।