JIO के साथ डील से दुनिया के बाकी हिस्सों में उत्पाद को बढ़ाने में मदद मिलेगी: जुकरबर्ग

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  अप्रैल 30, 2020   17:20
JIO के साथ डील से दुनिया के बाकी हिस्सों में उत्पाद को बढ़ाने में मदद मिलेगी: जुकरबर्ग

फेसबुक अब जिओ के साथ मिलकर अन्य बाजारों में उत्पादां का विस्तार, प्रौद्योगिकी निर्माण करना चाहती है। जुकरबर्ग ने बताया कि दुनिया में सबसे ज्यादा फेसबुक और व्हाट्सएप के उपयोगकर्ता भारत में हैं। उन्होंने कहा, ‘‘हमें लगता है कि दीर्घकालिक रूप से छोटे व्यवसायों की सेवा करने और वहां वाणिज्य को सक्षम करने का यह एक महत्वपूर्ण अवसर है।

नयी दिल्ली। सोशल मीडिया कंपनी फेसबुक के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) मार्क जुकरबर्ग का कहना है कि रिलायंस जियो के साथ किये गये 43,574 करोड़ रुपये के सौदे से कंपनी को ऐसे उत्पाद और प्रौद्योगिकियां बनाने में मदद मिलेगी, जिन्हें दुनिया के दूसरे हिस्सों तक पहुंचाया जा सकेगा। उन्होंने कहा कि फेसबुक का लक्ष्य व्हाट्सएप के संचार और भुगतान मंच का लाभ उठाते हुए जिओमार्ट के साथ मिल कर भारत में बेहतर खरीदारी और वाणिज्य अनुभव तैयार करना है।

इसे भी पढ़ें: मंजूरी तो मिल गई, फिर भी उत्पादन से दूर हैं उद्योग, जानिए कारण

फेसबुक ने पिछले सप्ताह जिओ प्लेटफार्म्स में 5.7 अरब डॉलर (करीब 43,574 करोड़ रुपये) के निवेश की घोषणा की है। जुकरबर्ग ने एक निवेशक कॉल के दौरान कहा, ‘‘सभी उत्पाद और तकनीक जो हम उस साझेदारी (जिओ के साथ) में बनाने जा रहे हैं, वे ऐसे होंगे जिन्हें हम दुनिया भर में उपलब्ध कराना चाहते हैं। इसलिये हम इस सोच को आगे बढ़ाने के लिये उनके साथ काम करने को उत्साहित हैं। आने वाले महीने और साल में हर जगह इसे विस्तारित करेंगे।’’ उन्होंने कहा कि इस तिमाही में कंपनी की मजबूत बैलेंस शीट महत्वपूर्ण उपलब्धि साबित हुई है, जिसने कंपनी को संकटग्रस्त वैश्विक अर्थव्यवस्था के बीच भी भारत में दीर्घकालिक वृद्धि की प्राथमिकता के लिये प्रतिबद्ध करने में सक्षम किया है।

इसे भी पढ़ें: कोरोना की मार, कर्मचारियों को ‘आंशिक’वेतन ही देगी स्पाइसजेट

जुकरबर्ग ने बताया कि दुनिया में सबसे ज्यादा फेसबुक और व्हाट्सएप के उपयोगकर्ता भारत में हैं। उन्होंने कहा, ‘‘हमें लगता है कि दीर्घकालिक रूप से छोटे व्यवसायों की सेवा करने और वहां वाणिज्य को सक्षम करने का यह एक महत्वपूर्ण अवसर है। हमें लगता है कि जिओद्वारा छोटे व्यवसायों के लिये पेश किये गये जिओ मार्ट और व्हाट्सएप को साथ लाकर हम भारत में लाखों दुकानों को जोड़ने जा रहे हैं और खरीदारी तथा वाणिज्य का बेहतर अनुभव बनाने जा रहे हैं।’’ उन्होंने कहा, ‘‘पूरे भारत में लाखों छोटे व्यवसाय और दुकानें हैं, और वे (जिओमार्ट) उन्हें एक ही नेटवर्क पर लाने में मदद करना चाहते हैं, जिससे आप व्हाट्सऐप के माध्यम से संवाद कर सकेंगे और व्हाट्सऐप के माध्यम से ही ऑनलाइन भुगतान कर सकेंगे।’’ उन्होंने कहा, ‘‘हम यह सोचें कि जिस देश में सबसे बड़ा व्हाट्सऐप समुदाय है, वहां हम छोटे व्यवसायों को कैसे जोड़ सकते हैं और उनकी मदद कर सकते हैं, यह इसका एक बहुत बड़ा उदाहरण है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।