फ्लिपकार्ट ने विक्रेताओं को ऋण देने के लिये बैंकों, NBFC से करार किया

flipkart-ties-up-with-banks-nbfc-to-offer-quick-loan
कंपनी ने बृहस्पतिवार को एक बयान में कहा कि उसने विक्रेताओं का वित्तपोषण करने वाले कार्यक्रम ‘ग्रोथ कैपिटल’ को नये सिरे से तैयार किया है। इसके तहत फ्लिपकार्ट के एक लाख से अधिक विक्रेता महज दो दिन में 10 बैंकों एवं एनबीएफसी से कर्ज ले सकते हैं।

मुंबई। वॉलमार्ट की स्वामित्व वाली ई-वाणिज्य कंपनी फ्लिपकार्ट ने अपने विक्रेताओं को महज दो दिन में ऋण प्रदान करने के लिये कई बैंकों तथा गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनियों (एनबीएफसी) के साथ करार किया है। कंपनी ने बृहस्पतिवार को एक बयान में कहा कि उसने विक्रेताओं का वित्तपोषण करने वाले कार्यक्रम ‘ग्रोथ कैपिटल’ को नये सिरे से तैयार किया है। इसके तहत फ्लिपकार्ट के एक लाख से अधिक विक्रेता महज दो दिन में 10 बैंकों एवं एनबीएफसी से कर्ज ले सकते हैं।

इसे भी पढ़ें: भारत-अमेरिका के बीच बातचीत में ई-वाणिज्य नीति, डेटा स्थानीयकरण पर हुई चर्चा

कंपनी ने कहा कि इसमें एक दिन का समय कर्ज की मंजूरी में लगता है तथा अगले दो दिन के भीतर कर्ज दे दिया जाता है। कर्ज की ब्याज दर 9.5 प्रतिशत है। कंपनी ने कहा कि इसके लिये भारतीय स्टेट बैंक, बैंक ऑफ बड़ौदा, एक्सिस बैंक, आदित्य बिड़ला फाइनेंस, टाटा कैपिटल, फ्लेक्सीलोन्स, स्मॉल इंडस्ट्रीज डेवलपमेंट बैंक ऑफ इंडिया (सिडबी), लेंडिंगकार्ट, इंडिफाइ और हैप्पी लोन्स के साथ करार किये गये हैं।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़