विदेशी निवेशकों ने भारतीय पूंजी बाजार में किया 7,714 करोड़ रुपये का निवेश

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  सितंबर 29, 2019   11:11
विदेशी निवेशकों ने भारतीय पूंजी बाजार में किया 7,714 करोड़ रुपये का निवेश

सरकार के आर्थिक सुधारों और बजट में एफपीआई पर लगाए गए कर अधिभार को वापस लेने की घोषणा के बाद विदेशी निवेशकों का निवेश बढ़ा है। पिछले सप्ताह सरकार ने कॉरपोरेट कर की दर में लगभग 10 प्रतिशत की कटौती कर दी थी।

नयी दिल्ली। पिछले दो महीनों में लगातार बिकवाली करने के बाद विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) ने सितंबर भारतीय पूंजी बाजार में 7,714 करोड़ रुपये की शुद्ध निवेश किया है।

इसे भी पढ़ें: विदेशी इन्वेस्टर ने सितंबर में अब तक पूंजी बाजार से 4,193 करोड़ निकाले

सरकार के आर्थिक सुधारों और बजट में एफपीआई पर लगाए गए कर अधिभार को वापस लेने की घोषणा के बाद विदेशी निवेशकों का निवेश बढ़ा है। पिछले सप्ताह सरकार ने कॉरपोरेट कर की दर में लगभग 10 प्रतिशत की कटौती कर दी थी। साथ ही एफपीआई के किसी प्रतिभूति, डेरिवेटिव की बिक्री पर पूंजीगत लाभ पर बढ़े हुए कर अधिभार को भी खत्म कर दिया था।

इसे भी पढ़ें: FPI ने सितंबर के पहले सप्ताह में पूंजी बाजारों से 1,263 करोड़ निकाले

इसके अलावा भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (सेबी) ने भी एफपीआई के लिए अपने अपने ग्राहक को जानो (केवाईसी) नियम सरल बना दिए हैं और उन्हें प्रतिभूति बाजार में लेनदेन की भी अनुमति दे दी है। डिपॉजिटरी के ताजा आंकड़ों के अनुसार एफपीआई ने तीन से 27 सितंबर के बीच शेयर बाजार में 7,849.89 करोड़ रुपये का निवेश किया जबकि बांड बाजार से 135.59 करोड़ रुपये की निकासी। इस तरह उन्होंने घरेलू पूंजी बाजार में कुल 7,714.30 करोड़ रुपये का निवेश किया।

इसे भी पढ़ें: FPI ने अगस्त में अब तक की 3,014 करोड़ की निकासी

पूंजी बाजार में शेयर बाजार, बांड बाजार और डेरिवेटिव में किया गया निवेश शामिल होता है। इससे पिछले महीने अगस्त में एफपीआई ने पूंजी बाजार से 5,920.02 करोड़ रुपये और अगस्त में 2,985.88 करोड़ रुपये की निकासी की थी।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।