जेट एयरवेज कर्मचारियों की वेतन को लेकर, मुख्य कार्यकारी के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने की मांग

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Apr 13 2019 11:41AM
जेट एयरवेज कर्मचारियों की वेतन को लेकर, मुख्य कार्यकारी के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने की मांग
Image Source: Google

ऑल इंडिया जेट एयरवेज ऑफिसर्स एंड स्टाफ एसोसिएशन के प्रमुख पावस्कर ने उपनगरीय साहर पुलिस थाना के वरिष्ठ निरीक्षक से कहा की हम आपको बताना चाहते हैं की आज की तारीख तक जेट ने हमें मार्च का वेतन नहीं दिया है। हम आपसे धोखाधड़ी, भरोसा तोड़ने, राशि का दुरुपयोग करने तथा कानून की अन्य उपयुक्त धाराओं के तहत मामला दर्ज करने की मांग करते हैं।

मुंबई।संकट से जूझ रही विमानन कंपनी जेट एयरवेज के कर्मचारियों के संगठन ने शुक्रवार को कंपनी के संस्थापक नरेश गोयल, मुख्य कार्यकारी विनय दूबे और भारतीय स्टेट बैंक के चेयरमैन रजनीश कुमार के खिलाफ मार्च का वेतन नहीं मिलने को लेकर शुक्रवार को प्राथमिकी दर्ज करने की मांग की है।इससे पहले दिन में संगठन के अध्यक्ष एवं एनसीपी सांसद किरण पावस्कर के नेतृत्व में कर्मचारियों ने हवाईअड्डे से कंपनी के मुख्यालय सिरोया सेंटर तक रैली निकाली। उन्होंने कंपनी के प्रबंधन के वरिष्ठ अधिकारियों से मुलाकात भी की। कर्मचारी दूबे से मिलने की मांग कर रहे थे।

इसे भी पढ़ें: स्टेट बैंक ने संकट में फंसी जेट एयरवेज के लिए बोली मांगी

इसके बाद कर्मचारी पुलिस थाने गये और गोयल, दूबे और कुमार के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने की मांग की। जेट एयरवेज को कर्ज देने वाले बैंकों की अगुवाई स्टेट बैंक कर रहा है। एयरलाइन का नियंत्रण इस समय स्टेट बैंक की अगुवाई वाले बैंक समूह के पास है।ऑल इंडिया जेट एयरवेज ऑफिसर्स एंड स्टाफ एसोसिएशन के प्रमुख पावस्कर ने उपनगरीय साहर पुलिस थाना के वरिष्ठ निरीक्षक से कहा की हम आपको बताना चाहते हैं कि आज की तारीख तक जेट ने हमें मार्च का वेतन नहीं दिया है। हम आपसे धोखाधड़ी, भरोसा तोड़ने, राशि का दुरुपयोग करने तथा कानून की अन्य उपयुक्त धाराओं के तहत मामला दर्ज करने की मांग करते हैं।
प्रबंधन से मिलने से पहले पावस्कर ने कर्मचारियों को संबोधित किया और कंपनी की बदहाली के लिये सरकारी नीतियों को जिम्मेदार बताया। उन्होंने दावा किया कि कंपनी अभी जो थोड़े-बहुत पैसे कमा रही है उसका इस्तेमाल यात्रियों को पैसा वापस करने में किया जा रहा है।इस बीच मुंबई हवाई अड्डे पर फंसे यात्रियों ने आरोप लगाया कि उन्हें टिकट के पैसे वापस नहीं मिल रहे हैं और अंतिम समय पर उड़ान रद्द होने के कारण वे महंगे टिकट खरीदने को बाध्य हैं।कर्मचारियों का भी कहना है कि ऐन मौके पर उड़ान रद्द होने के कारण उन्हें उपभोक्ताओं के गुस्से का शिकार होना पड़ रहा है।
 
 


रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story