नीतिगत दरों में कटौती की उम्मीद में सेंसेक्स, निफ्टी रिकॉर्ड ऊंचाई पर

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Jun 3 2019 6:05PM
नीतिगत दरों में कटौती की उम्मीद में सेंसेक्स, निफ्टी रिकॉर्ड ऊंचाई पर
Image Source: Google

हीरो मोटोकॉर्प, बजाज ऑटो, एशियन पेंट्स, इंड्सइंड बैंक, एचयूएल और मारूति के शेयरों में सबसे अधिक वृद्धि दर्ज की गयी। आईसीआईसीआई बैंक, एनटीपीसी और आईटीसी के शेयरों में मामूली गिरावट देखने को मिली।

मुंबई। केंद्रीय बैंक द्वारा नीतिगत दरों में कटौती की उम्मीद को लेकर सोमवार को देश के प्रमुख शेयर बाजार अब तक के सबसे उच्च स्तरों पर पहुंच गए। बीएसई का सेंसेक्स 553 अंक एवं एनएसई का निफ्टी 166 अंक की उछाल के साथ बंद हुए। बीएसई का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक दिन के कारोबार में एक समय में 40,308.90 अंक पर पहुंच गया था। हालांकि, बाजार बंद होने के समय 553.42 अंक के भारी उछाल के साथ 40,267.62 अंक पर रहा। वहीं एनएसई का निफ्टी भी दिन के कारोबार में एक समय अब तक के अपने सर्वोच्च स्तर 12,103.05 अंक पर पहुंच गया था। लेकिन बाद में 165.75 अंक यानी 1.39 प्रतिशत चढ़कर 12,088.55 अंकों पर बंद हुआ।



 
हीरो मोटोकॉर्प, बजाज ऑटो, एशियन पेंट्स, इंड्सइंड बैंक, एचयूएल और मारूति के शेयरों में सबसे अधिक वृद्धि दर्ज की गयी। आईसीआईसीआई बैंक, एनटीपीसी और आईटीसी के शेयरों में मामूली गिरावट देखने को मिली। कारोबारियों के मुताबिक केंद्रीय बैंक द्वारा ब्याज दरों में कटौती की उम्मीद के चलते निवेशकों ने भारी लिवाली की। मार्च तिमाही में आर्थिक वृद्धि की रफ्तार सुस्त पड़ने के कारण निवेशकों को दरों में कटौती की गुंजाइश बढ़ती दिख रही है। कृषि एवं विनिर्माण क्षेत्र में अच्छा प्रदर्शन नहीं रहने के कारण देश की अर्थव्यवस्था की वृद्धि की रफ्तार सुस्त पड़ गयी है।


विशेषज्ञों का मानना है कि बृहस्पतिवार को लगातार तीसरी बार आरबीआई नीतिगत दरों में कटौती कर सकता है। इस बात की उम्मीद है कि आरबीआई की मौद्रिक नीति समिति बृहस्पतिवार को अपनी द्विमासिक नीतियों की घोषणा कर सकती है। केंद्रीय बैंक ने पिछले दो बार में रेपो दर में 0.25-0.25 प्रतिशत की कटौती की है। कारोबारियों ने कहा कि रुपये के मजबूत होने का सकारात्मक असर निवेशकों की धारणा पर देखने को मिला। रुपया सोमवार को डॉलर के मुकाबले 38 पैसे मजबूत होकर 69.32 रुपये प्रति डॉलर के स्तर पर पहुंच गया। इसी बीच एशियाई शेयर बाजारों में मिश्रित रुख देखने को मिला, वहीं यूरोपीय बाजारों में शुरुआती कारोबार में गिरावट देखने को मिल रही है।
 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story