ऑस्ट्रेलिया में टीम इंडिया की जीत से डरा इंग्लैंड! स्पिनर ग्रीम स्वान ने टेस्ट से पहले दिया बड़ा बयान

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जनवरी 22, 2021   11:58
  • Like
ऑस्ट्रेलिया में टीम इंडिया की जीत से डरा इंग्लैंड! स्पिनर ग्रीम स्वान ने टेस्ट से पहले दिया बड़ा बयान

इंग्लैंड के पूर्व स्पिनर ग्रीम स्वान ने कहा कि ऑस्ट्रेलिया अब सर्वश्रेष्ठ टीम नहीं रही है।इंग्लैंड पांच फरवरी से चार टेस्ट मैचों की श्रृंखला के लिए भारत का दौरा करेगा जबकि इसके बाद पांच टी20 और तीन एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैचों की श्रृंखला भी खेली जाएगी।

लंदन। इंग्लैंड के पूर्व स्पिनर ग्रीम स्वान का मानना है कि ऑस्ट्रेलिया में एतिहासिक टेस्ट जीत के बाद भारत की टीम ‘लगभग अजेय’ लग रही थी और अगर इंग्लैंड की टीम अगले महीने विराट कोहली की टीम को हरा देती है तो एशेज के लिए अपने ‘जुनून’ से बड़ी उपलब्धि हासिल करेगी। इंग्लैंड पांच फरवरी से चार टेस्ट मैचों की श्रृंखला के लिए भारत का दौरा करेगा जबकि इसके बाद पांच टी20 और तीन एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैचों की श्रृंखला भी खेली जाएगी। स्वान ने कहा कि पहले मैच के बाद कप्तान कोहली के उपलब्ध नहीं होने के बावजूद भारत ने आस्ट्रेलिया पर वैसा दबदबा बनाया जैसे बहुत कम टीमें बना पाती हैं।

इसे भी पढ़ें: 11 महीने बाद टेनिस में वापसी करेगी विश्व की नंबर एक टेनिस खिलाड़ी एश बार्टी

स्वान ने ‘द सन’ से कहा, ‘‘इंग्लैंड हमेशा कहता है कि एशेज श्रृंखला होने वाली है। आस्ट्रेलिया अब दुनिया की सर्वश्रेष्ठ टीम नहीं है। कभी वे होते थे, काफी आगे.... अब ऐसा नहीं है लेकिन हमारे अंदर इसे लेकर जुनून है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘हमें एशेज श्रृंखला से आगे बढ़ना होगा। मुझे लगता है कि अभी भारत को भारत में हराना इससे कहीं बड़ी उपलब्धि है। 2012 में उन पर हमारी जीत के बाद से वे भारत में लगभग अजेय हैं।’’ स्वान ने कहा कि अगर इंग्लैंड दुनिया की सर्वश्रेष्ठ टीम बनना चाहता है तो उन्हें सिर्फ आस्ट्रेलिया में आस्ट्रेलिया को हराने का प्रयास करने की चाहत से आगे बढ़ना होगा।

इसे भी पढ़ें: धोनी से तुलना किए जाने पर पंत ने कहा, 'खुद का बनाना चाहता हूँ नाम'

एशेज श्रृंखला इस साल ऑस्ट्रेलिया में दिसंबर से खेली जाएगी। इंग्लैंड के लिए 2008 से 2013 के बीच 60 टेस्ट में 255 विकेट चटकाने वाले 41 साल के पूर्व आफ स्पिनर स्वान ने इंग्लैंड के खिलाड़ियों को अतीत की गल्तियों से सीखने और केविन पीटरसन की तरह स्पिन का सामना करने को कहा जिसकी बदौलत इंग्लैंड 2012 में भारत में टेस्ट श्रृंखला जीतने में सफल रहा था। उन्होंने कहा ,‘‘लोग ऐसा क्यों नहीं कह रहे कि यह मौका है कि स्पिन खेलने वाले अच्छे खिलाड़ियों के साथ इस टीम का सामना किया जाए, कदमों का इस्तेमाल करो, हम जिस तरह स्पिन का सामना करते हैं उसे पूरी तरह बदल दो और इसके बाद हम भारत को हरा सकते हैं।’’ स्वान ने कहा, ‘‘हम भारत को तब तक नहीं हरा सकते जब तक कि स्पिनर विकेट ना चटकाएं और इसके बाद किसी को उस तरह बल्लेबाजी करनी होगी जैसी केविन पीटरसन ने की थी।’’ स्वान ने कहा कि पूर्व कप्तान पीटरसन ने स्पिन के खिलाफ इंग्लैंड के खेलने के तरीके को बदल दिया था।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।




ऑस्ट्रेलिया के पूर्व बल्लेबाज इयान चैपल ने कहा, भारत ने स्पिन के खिलाफ इंग्लैड की कमजोरी का फायदा उठाया

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  फरवरी 28, 2021   17:09
  • Like
ऑस्ट्रेलिया के पूर्व बल्लेबाज इयान चैपल ने कहा, भारत ने स्पिन के खिलाफ इंग्लैड की कमजोरी का फायदा उठाया

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व दिग्गज बल्लेबाज इयान चैपल ने कहा, ‘‘भारत ने टेस्ट में तीन स्पिनरों को खिलाने का फैसला क्योंकि चेन्नई की पिच पर जो रूट के अलावा कोई और बल्लेबाज स्पिन के खिलाफ अच्छा प्रदर्शन नहीं कर सका था।’’

नयी दिल्ली। ऑस्ट्रेलिया के पूर्व दिग्गज बल्लेबाज इयान चैपल ने कहा कि भारत ने चेन्नई में खेले गये दूसरे टेस्ट में स्पिन खेलने में इंग्लैंड की कमजोरी की पहचान कर तीसरे टेस्ट में इसे अपने फायदे की तरह इस्तेमाल किया जिससे ‘गुलाबी गेंद’ से मेहमान टीम दो दिन के अंदर मैच गंवा बैठी। स्पिनरों अक्षर पटेल और रविचंद्रन अश्विन ने क्रमश: 11 और सात विकेट चटकाये जिससे इंग्लैंड की टीम पहली पारी में 112 और दूसरी पारी में 81 रन पर ऑल आउट हो गयी और भारत ने 10 विकेट से मैच अपने नाम कर लिया। इससे पहले चेन्नई में दूसरे टेस्ट को भारतीय टीम ने 317 रन से जीता था। इस टेस्ट में इंग्लैंड की टीम दोनों पारियों में महज 134 और 164 रन ही बना सकी थी। 

इसे भी पढ़ें: मध्यम गति के गेंदबाज विनय कुमार ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को कहा अलविदा 

चैपल ने ‘ईएसपीएनक्रिकइंफो’ पर अपने कॉलम में लिखा, ‘‘भारत ने टेस्ट में तीन स्पिनरों को खिलाने का फैसला क्योंकि चेन्नई की पिच पर जो रूट के अलावा कोई और बल्लेबाज स्पिन के खिलाफ अच्छा प्रदर्शन नहीं कर सका था।’’ उन्होंने कहा, ‘‘ भारत ने इसका सही इस्तेमाल करते हुए उनकी मानसिकता को प्रभावित करते हुए इसे अपने फायदे के लिए इस्तेमाल किया।’’ उन्होंने कहा कि चेन्नई में खेले गये दूसरे टेस्ट में इंग्लैंड की पारी सस्ते में इसलिए सिमटी क्योंकि उनके बल्लेबाजों को अपने रक्षात्मक खेल पर भरोसा नहीं था।

इस पूर्व दिग्गज ने कहा, ‘‘ जब स्पिन की गंभीर चुनौती का सामना करना पड़ा, तो इंग्लैंड के बल्लेबाजों को अपनी रक्षात्मक खेल पर भरोसा नहीं था, जिसके कारण उन्होंने भारतीय स्पिनरों के खिलाफ आक्रामक रूख अपनाने का प्रयास किया। वे क्रीज से बाहर निकल कर खेलने की जगह रिवर्स स्वीप का सहारा ले रहे थे जो इसका सटीक उदाहरण है।’’ 

इसे भी पढ़ें: टेस्ट क्रिकेट में शानदार पदार्पण पर बोले अक्षर पटेल, यह सब आत्मविश्वास की बात है 

उन्होंने सवाल किया, ‘‘ पहले से मन बना कर खेले गये जोखिम भरे शॉट, अच्छे स्पिनरों को अस्थिर करने के लिए इस्तेमाल की जा रही विश्वसनीय तकनीक से बेहतर कैसे हो सकते हैं?’’ उन्होंने कहा कि कदमों के बेहतर इस्तेमाल से स्पिन के असर को कम करने के साथ बल्लेबाज के पास मन के मुताबिक जगह पर शॉट खेलने का विकल्प होता है। यह ऐसा कौशल है जिसे खेल के शुरूआती दिनों में सीखा जाता है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।




टेस्ट रैंकिंग में छह स्थान के सुधार के साथ आठवें पायदान पर पहुंचे रोहित शर्मा

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  फरवरी 28, 2021   16:18
  • Like
टेस्ट रैंकिंग में छह स्थान के सुधार के साथ आठवें पायदान पर पहुंचे रोहित शर्मा

भारतीय टीम ने इंग्लैंड के खिलाफ मुकाबले को दो दिनों के अंदर 10 विकेट से अपने किया था। रोहित टीम के साथी खिलाड़ी चेतेश्वर पुजारा से दो पायदान ऊपर हैं।

दुबई। इंग्लैंड के खिलाफ अहमदाबाद में कम स्कोर वाले टेस्ट मैच में अर्धशतकीय पारी खेलने वाले भारतीय सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद की रविवार को जारी नवीनतम रैंकिंग में छह स्थान के सुधार के साथ अपने करियर के सर्वश्रेष्ठ आठवें पायदान पर पहुंच गये हैं। इस मैच की पहली पारी में रोहित ने 66 रन बनाने के बाद दूसरी पारी में नाबाद 25 रन बनाये थे। भारतीय टीम ने इस मुकाबले को दो दिनों के अंदर 10 विकेट से अपने किया था। रोहित टीम के साथी खिलाड़ी चेतेश्वर पुजारा से दो पायदान ऊपर हैं। उनके नाम 742 रेटिंग अंक हैं जो उनके पिछले सर्वश्रेष्ठ 722 अंक (अक्टूबर 2019) से 20 अंक ज्यादा है। उस समय वह रैंकिंग में 10वें स्थान पर थे। 

इसे भी पढ़ें: टेस्ट क्रिकेट में शानदार पदार्पण पर बोले अक्षर पटेल, यह सब आत्मविश्वास की बात है 

स्पिनरों की मददगार पिच पर शानदार प्रदर्शन करने वाले मैन ऑफ द मैच अक्षर पटेल और अनुभवी रविचंद्रन अश्विन भी अपनी रैंकिंग में सुधार करने में सफल रहे। मैच में 11 विकेट लेने वाले वामहस्त स्पिनर अक्षर पटेल 30 स्थान के सुधार के साथ 38वें जबकि सात विकेट लेने वाले ऑफ स्पिनर अश्विन चार स्थान के सुधार के साथ तीसरे पायदान पर पहुंच गये। इंग्लैंड के स्पिनर जैक लीच भी पहली बार शीर्ष 30 में जगह बनाने में सफल रहे।

इस टेस्ट में चार विकेट झटक कर वह 28वें जबकि टेस्ट में पहली बार पारी में पांच विकेट लेने वाले कप्तान जो रूट 16 स्थानों के सुधार के साथ 72वें स्थान पर पहुंच गये।रूट हरफनमौला खिलाड़ियों की सूची में 13वें स्थान पर हैं। पहली पारी में 53 रन बनाने वाले सलामी बल्लेबाज जैक क्रॉले 15 स्थान के सुधार के साथ 46वें स्थान पर पहुंच गये। इस बीच आईसीसी ने कहा कि पुरुष और महिला खिलाड़ियों की रैंकिंग को मार्च 2021 से साप्ताहिक आधार पर जारी किया जायेगा। 

इसे भी पढ़ें: इंग्लैंड WTC फाइनल की दौड़ से बाहर, भारत तालिका में शीर्ष पर पहुंचा 

आईसीसी के बयान के मुताबिक, यह परिवर्तन रैंकिंग की गणना के तरीके को प्रभावित नहीं करेगा लेकिन इसका मतलब है कि रैंकिंग को किसी श्रृंखला के खत्म होने के बजाय साप्ताहिक तौर पर जारी किया जाएगा जिसमें उस समय जारी मैच के प्रदर्शन को शामिल नहीं किया जाएगा।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।




पिच विवाद पर नाथन लियोन ने आलोचकों को घेरा, बोले- जब गेंद स्पिन लेने लगती है तो सभी रोना शुरू कर देते हैं

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  फरवरी 28, 2021   12:25
  • Like
पिच विवाद पर नाथन लियोन ने आलोचकों को घेरा, बोले- जब गेंद स्पिन लेने लगती है तो सभी रोना शुरू कर देते हैं

ऑस्ट्रेलिया के स्टार स्पिनर नाथन लियोन ने कहा, ‘‘मुझे यह समझ नहीं आता। मुझे इसमें (पिच में) कोई दिक्कत नहीं लगी, यह रोमांचक थी।’’

मेलबर्न। ऑस्ट्रेलिया के स्टार स्पिनर नाथन लियोन मोटेरा की पिच को लेकर चल रही हायतौबा से हैरान हैं और उन्होंने कहा कि ऐसा लगता है कि जब गेंद स्पिन लेने लगती है तो सभी रोना शुरू कर देते हैं जबकि तेज गेंदबाजी की अनुकूल पिच पर टीमों के कम स्कोर पर आउट होने पर कोई कुछ नहीं बोलता। इंग्लैंड के तीसरे टेस्ट में 10 विकेट की हार के दौरान दोनों पारियों में 112 और 81 रन पर आउट होने के बाद मोटेरा की पिच को कुछ लोगों की आलोचना का सामना करना पड़ रहा है जिसमें पूर्व कप्तान माइकल वॉन, एंड्रयू स्ट्रॉस और एलिस्टेयर कुक भी शामिल हैं। लियोन ने हालांकि क्यूरेटर की सराहना की है। 

इसे भी पढ़ें: पिच विवाद पर बोले माइकल वान, भारत को जितनी अधिक छूट दी जाएगी, उतना अप्रभावी नजर आएगा ICC 

‘द वेस्ट आस्ट्रेलियन’ ने लियोन के हवाले से लिखा, ‘‘हम दुनिया भर में तेज गेंदबाजी की अनुकूल पिच पर खेलते हैं और 47, 60 रन पर आउट हो जाते हैं। कोई (पिच के बारे में) कुछ नहीं कहता। लेकिन जैसे की यह स्पिन लेना शुरू कर देती है, दुनिया भर में ऐसा लगता है कि सभी ने रोना शुरू कर दिया है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘मुझे यह समझ नहीं आता। मुझे इसमें (पिच में) कोई दिक्कत नहीं लगी, यह रोमांचक थी।’’ पिच क्यूरेटर से महानतम आफ स्पिनरों में से एक का सफर तय करने वाले लियोन ने कहा कि वह अहमदाबाद के क्यूरेटर को सिडनी क्रिकेट ग्राउंड (एससीजी) में लाना पसंद करेंगे। 

इसे भी पढ़ें: टेस्ट क्रिकेट में शानदार पदार्पण पर बोले अक्षर पटेल, यह सब आत्मविश्वास की बात है

उन्होंने कहा, ‘‘मैं पूरी रात इसे देख रहा था। यह बेहद शानदार था। मैं उस क्यूरेटर को एससीजी में लाने के बारे सोच रहा हूं।’’ भारत दिन-रात्रि के टेस्ट में जहां तीन स्पिनरों के साथ उतरा वहीं इंग्लैंड ने अपनी एकादश में सिर्फ एक स्पिनर जैक लीच को जगह दी। लियोन ने कहा कि इस टेस्ट मैच के बारे में सर्वश्रेष्ठ चीज यह थी कि इंग्लैंड चार तेज गेंदबाजों के साथ उतरा था। मेरे लिए यही काफी है। मुझे कुछ और कहने की जरूरत नहीं है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।




This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.Accept