आईपीएल फॉर्मेट बदला : पांच-पांच के दो ग्रुप में बांटी गई 10 टीम, हर टीम खेलेगी 14 मैच

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  फरवरी 25, 2022   17:54
आईपीएल फॉर्मेट बदला : पांच-पांच के दो ग्रुप में बांटी गई 10 टीम, हर टीम खेलेगी 14 मैच

टीम को आईपीएल में उनके प्रदर्शन के आधार पर ग्रुप में बांटा गया है, जिसमें उनके कुल खिताब और फाइनल्स में प्रवेश को आधार बनाया गया है। मुंबई ने पांच खिताब जीते हैं तो उसे ग्रुप ए में रखा गया है जबकि ग्रुप बी की पहली टीम चेन्नई होगी जिसने चार खिताब जीते हैं। केकेआर तीसरे नंबर की टीम होगी जिसने दो खिताब हासिल किये हैं।

नयी दिल्ली, इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) 2022 बदले प्रारूप में खेला जाएगा जिसमें 10 टीम को पांच - पांच टीम के दो ग्रुप में बांटा गया है लेकिन इसके बावजूद प्रत्येक टीम पहले की तरह 14 मैच खेलेगी। भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) ने शुक्रवार को टीम के ग्रुप का खुलासा किया। मुंबई इंडियन्स, कोलकाता नाइट राइडर्स (केकेआर), राजस्थान रॉयल्स, दिल्ली कैपिटल्स और लखनऊ सुपरजायंट्स को ग्रुप ए में जबकि चेन्नई सुपर किंग्स, सनराइजर्स हैदराबाद, रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर (आरसीबी), पंजाब किंग्स और गुजरात टाइटन्स को ग्रुप बी में रखा गया है। पिछले वर्षों तक आईपीएल में आठ टीम भाग लेती थी जिसमें से प्रत्येक टीम एक दूसरे से राउंड रोबिन आधार पर दो-दो मैच खेलती थी। आईपीएल के लिये हालांकि ग्रुप वाला प्रारूप नया नहीं है तथा एक दशक पहले जब पुणे वारियर्स और कोच्चि टस्कर्स केरल लीग का हिस्सा बने थे तब भी इसे अपनाया गया था।

टीम को आईपीएल में उनके प्रदर्शन के आधार पर ग्रुप में बांटा गया है, जिसमें उनके कुल खिताब और फाइनल्स में प्रवेश को आधार बनाया गया है। मुंबई ने पांच खिताब जीते हैं तो उसे ग्रुप ए में रखा गया है जबकि ग्रुप बी की पहली टीम चेन्नई होगी जिसने चार खिताब जीते हैं। केकेआर तीसरे नंबर की टीम होगी जिसने दो खिताब हासिल किये हैं। उसे ग्रुप ए में रखा गया है जबकि सनराइजर्स ने एक खिताब जीता है और उसे टीम नंबर चार के रूप में ग्रुप बी में शामिल किया गया है। टीम पांच को फिर से ग्रुप ए में रखा गया है और यह टीम एक खिताब जीतने वाली राजस्थान रॉयल्स है। ग्रुप बी में उसके विपरीत टीम आरसीबी है जो तीन बार फाइनल में पहुंची है। दिल्ली कैपिटल्स एक बार फाइनल में पहुंचने के कारण सातवें नंबर की टीम होगी और उसे ग्रुप ए में रखा गया है जबकि टीम आठ पंजाब किंग्स है जो एक बार फाइनल में पहुंची है। उसे ग्रुप बी में रखा गया है।

नयी टीमों में लखनऊ को नौवीं टीम के रूप में ग्रुप ए में जबकि उसके साथ वाली टीम गुजरात 10वीं टीम के रूप में ग्रुप बी का हिस्सा है। मैचों के प्रारूप इस तरह से हैं कि प्रत्येक टीम अपने ग्रुप में प्रत्येक टीम से दो - दो मैच खेलेगी जो कुल मिलाकर आठ मैच होंगे। बाकी बचे छह मैच वह दूसरे ग्रुप की टीम से खेलेगी। इनमें से वह अपने सामने वाली टीम से दो मैच खेलेगी। जैसे मुंबई ग्रुप ए में शीर्ष टीम है तो वह ग्रुप बी की अपनी बराबरी की टीम चेन्नई से दो मैच खेलेगी जबकि बाकी टीम से उसका एक एक मैच होगा। इसी तरह से ग्रुप ए की दूसरे नंबर की टीम केकेआर ग्रुप बी की दूसरे नंबर की टीम सनराइजर्स से दो और बाकी टीम से एक-एक मैच खेलेगी। इस तरह से प्रत्येक चरण में एक टीम 14 मैच खेलेगी।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।



Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

खेल

झरोखे से...