2021 में भी धोनी के CSK के कप्तान बने रहने पर गौतम गंभीर ने दी ये प्रतिक्रिया

 CSK
भारत के पूर्व सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर ने कहा कि धोनी 2021 में भी सीएसके के कप्तान रहते हैं तो कोई हैरानी नहीं होगी।गंभीर ने ईएसपीएन क्रिकइन्फो से कहा,‘‘मैं हमेशा कहता हूं कि सीएसके को बनाने में मालिकों और कप्तान के बीच संबंधों का बड़ा हाथ है।उन्होंने एम एस को पूरी आजादी दी और उसे मालिकों से पूरा सम्मान मिला।’

नयी दिल्ली। भारत के पूर्व सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर ने कहा है कि चेन्नई सुपर किंग्स और महेंद्र सिंह धोनी के बीच आपसी विश्वास का इतना अच्छा रिश्ता है कि वह इस साल खराब प्रदर्शन के बावजूद 2021 में टीम के कप्तान बने रह सकते हैं। तीन बार की चैम्पियन चेन्नई टूर्नामेंट के इतिहास में पहली बार प्लेआफ में जगह बनाने में नाकाम रही और 12 में से आठ मैच हारकर आखिरी स्थान पर है। गंभीर ने ईएसपीएन क्रिकइन्फो से कहा ,‘‘ मैं हमेशा कहता हूं कि सीएसके को बनाने में मालिकों और कप्तान के बीच संबंधों का बड़ा हाथ है।उन्होंने एम एस को पूरी आजादी दी और उसे मालिकों से पूरा सम्मान मिला।’’ उन्होंने कहा ,‘‘ यदि वे उसे बरकरार रखते हैं तो मुझे हैरानी नहीं होगी। वह तब तक खेल सकता है, जब तक वह चाहे। हो सकता है कि अगले साल बदली हुई चेन्नई टीम के साथ वह कप्तान के रूप में नजर आये। ’’

इसे भी पढ़ें: Champions League: मेस्सी की टीम ने युवेंटस को धोया, चेलसी और मैनचेस्टर युनाइटेड भी जीते

गंभीर ने कहा ,‘‘ मालिकों से इस तरह के सम्मान के वह हकदार हैं।’’ उन्होंने कहा ,‘‘ उसने जो टीम के लिये किया और टीम मालिकों ने उसे जो सम्मान दिया, वह शानदार रिश्ता है।हर टीम को अपने कप्तान के साथ ऐसे ही पेश आना चाहिये।’’ उन्होंने कहा ,‘‘ एम एस ने उन्हें तीन आईपीएल खिताब, दो चैम्पियंस लीग खिताब दिये और मुंबई इंडियंस के बाद सबसे कामयाब टीम बनाया। सीएसके अगर एम एस को ही कप्तान रखती है तो यह उनका रिश्ता और आपसी विश्वास है। यही वजह है कि एम एस टीम के प्रति वफादार रहा। उसने अपना सब कुछ दिल , दिमाग, पसीना, रातों की नींद टीम को दी।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़