IPL 2022। क्रुणाल और हुड्डा की दिखी जुगलबंदियां तो राजस्थान-हैदराबाद पर है सभी की निगाहें

IPL 2022। क्रुणाल और हुड्डा की दिखी जुगलबंदियां तो राजस्थान-हैदराबाद पर है सभी की निगाहें
प्रतिरूप फोटो

केएल राहुल की बात की जाए तो मोहम्मद शमी से उनका सामना 4 बार हुआ है और उसमें से 3 बार शमी ने उनका विकेट चटकाया है। हां, दोनों खिलाड़ियों का सामना कम ही हुआ है क्योंकि दोनों खिलाड़ी पिछले सीजन में एक ही टीम यानी की पंजाब किंग्स के लिए खेलते थे।

इंडियन प्रीमियर लीग का चौथा मुक़ाबला काफ़ी दिलचस्प रहा। इस दौरान दो नई टीमों का आमना-सामना हुआ और पुराने साथी भी एक-दूसरे के सामने डटकर खड़े रहे। हार्दिक पांड्या ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाज़ी करने का निर्णय लिया और गेंद अपने सबसे क़ाबिल गेंदबाज़ मोहम्मद शमी को सौंप दी और उन्होंने पहली ही गेंद पर लखनऊ सुपर जाइंट्स के कप्तान केएल राहुल को पवेलियन लौटने के लिए मजबूर कर दिया। यही से मोहम्मद शमी को तूता बोलने लगा और उन्होंने अपने कॅरियर की सबसे बेहतरीन गेंदबाजी करते हुए पॉवर प्ले में पहली बार 3 विकेट चटकाए। 

इसे भी पढ़ें: गुजरात टाइटंस के कप्तान हार्दिक पंड्या बोले, बल्ले से अधिक जिम्मेदारी उठाना चाहता हूं

केएल राहुल की बात की जाए तो मोहम्मद शमी से उनका सामना 4 बार हुआ है और उसमें से 3 बार शमी ने उनका विकेट चटकाया है। हां, दोनों खिलाड़ियों का सामना कम ही हुआ है क्योंकि दोनों खिलाड़ी पिछले सीजन में एक ही टीम यानी की पंजाब किंग्स के लिए खेलते थे।

एक-दूसरे के गले मिले क्रुणाल और दीपक

लखनऊ सुपर जाइंट्स और गुजरात टाइटंस के बीच खेले गए मुकाबले में खेल भावना का भी नजारा देखने को मिला। कभी घरेलू सीरीज में आपस में भिड़ने वाले क्रुणाल पांड्या और दीपक हुड्डा ने एक-दूसरे को गले से लगा दिया। दरअसल, शुभमन गिल का कैच जब दीपक हुड्डा ने पकड़ा तो क्रुणाल पांड्या उनकी तरफ दौड़ते हुए गए और उन्हें गले से लगा लिया। इतना ही नहीं दीपक हुड्डा के आउट होकर पवेलियन लौटने पर भी क्रुणाल पांड्या ने उनसे हाथ मिलाया।

कभी दोनों खिलाड़ी वड़ोदरा के लिए एक साथ खेला करते थे। उस वक्त वड़ोदरा के कप्तान क्रुणाल पांड्या और उपकप्तान दीपक हुड्डा थे और दोनों के बीच में झगड़ा हो गया था जो इतना ज्यादा बढ़ गया कि दीपक हुड्डा ने अभ्यास सत्र छोड़कर घर जाने का फैसला किया और बड़ौदा क्रिकेट एसोसिएशन से शिकायत भी कर दी। उस वक्त उन्होंने कहा था कि क्रुणाल पांड्या उन्हें अक्सर गाली दिया करते थे लेकिन बीते दिनों जो नजारा दिखाई दिया उससे यह माना जा सकता है कि दोनों खिलाड़ियों ने बीती बातों को भुलाकर खेल भावना का प्रदर्शन किया।

लखनऊ सुपर जाइंट्स ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 5 विकेट पर 158 रन बनाS लेकिन गुजरात टाइंट्स की टीम ने दो गेंद शेष रहते 5 विकेट पर 161 रन बनाकर मैच अपने नाम कर लिया। गुजरात टाइंट्स को आखिरी ओवरों में राहुल तेवतिया को डेविड मिलर और नए खिलाड़ी अभिनव मनोहर का अच्छा साथ मिला जिससे टीम ने आखिरी 5 ओवरों में 70 रन एकत्रित करके मैच अपने नाम कर लिया। 

इसे भी पढ़ें: दिल्ली कैपिटल्स को लगा बड़ा झटका, मिचेल मार्श हुए चोटिल, IPL में खेलना संदिग्ध 

राजस्थान और हैदराबाद पर टिकी हैं सभी की निगाहें

आईपीएल के 15वें सीजन का पांचवां मुकाबला राजस्थान रॉयल्य और सनराइजर्स हैदराबाद के बीच पुणे में खेला जाना है। इस दौरान संजू सैमसन अपने धुरंधरों के साथ केन विलियमसन की ब्रिगेड के साथ दो-दो हाथ करेंगे। पुणे के महाराष्ट्र क्रिकेट एसोसिएशन स्टेडियम की पिच की अगर बात की जाए तो यह बल्लेबाजी के लिए काफी अनुकूल है और यहां पर स्पिनर्स को भी थोड़ी बहुत मदद मिल सकती है।

दोनों टीमों का आपस में 15 बार सामना हुआ है। जिसमें हैदराबाद का पलड़ा राजस्थान की तुलना में भारी रहा है। 15 मुकाबलों में से हैदराबाद ने 8 तो राजस्थान ने 7 मुकाबलों में जीत दर्ज की है। ऐसे में अगर संजू सैमसन ने बाजी मार ली तो आंकड़े बराबर हो जाएंगे।

आपको बता दें कि साल 2008 में पहली बार आईपीएल का आयोजन हुआ था और शेन वॉर्न की कप्तानी वाली टीम राजस्थान रायल्स ने खिताब अपने नाम किया था लेकिन उसके बाद टीम कभी प्रभावशाली प्रदर्शन नहीं कर पायी। संजू सैमसन ने हर साल एक या दो मैचों में अच्छा प्रदर्शन दिखाया लेकिन अगर राजस्थान रॉयल्स को अपना दूसरा खिताब जीतना है तो उन्हें अपने प्रदर्शन में निरंतरता लानी होगी। इससे सैमसन को इस साल के आखिर में होने वाले टी20 वर्ल्ड कप के लिए टीम इंडिया में जगह पक्की करने का मौका भी मिलेगा। जॉस बटलर और देवदत्त पडिक्कल राजस्थान रॉयल्स की पारी का आगाज कर सकते हैं।

मध्यक्रम में राजस्थान रॉयल्स के पास पावर हिटर शिमरोन हेटमायर, रासी वान डेर डूसेन, जिमी नीशम और रियान पराग जैसे खिलाड़ी हैं। उनका योगदान टीम के लिए बेहद महत्वपूर्ण होगा।

सनराइजर्स हैदराबाद की बात करे तो उसके बल्लेबाजी क्रम में कप्तान केन विलियमसन सबसे अनुभवी बल्लेबाज हैं। न्यूजीलैंड के उनके साथी ग्लेन फिलिप्स पारी का आगाज कर सकते हैं जबकि मध्यक्रम की जिम्मेदारी निकोलस पूरन, प्रियम गर्ग और राहुल त्रिपाठी पर होगी। लेकिन केन विलियमसन अगर तीसरे नंबर पर उतरते हैं तो फिर रविकुमार समर्थ सलामी बल्लेबाज की भूमिका निभा सकते हैं जबकि अब्दुल समद की भूमिका फिनिशर की होगी। 

इसे भी पढ़ें: GT vs LSJ: हुड्डा और बदोनी की पारी हुई बेकार, रोमांचक मुकाबले में गुजरात ने लखनऊ को हराया 

टीमें:

राजस्थान रॉयल्स: संजू सैमसन (कप्तान), यशस्वी जायसवाल, रियान पराग, शुभम गरवाल, ध्रुव जुरेल, कुलदीप यादव, कुलदीप सेन, तेजस बरोका, अनुनय सिंह, केसी करियप्पा, जोस बटलर, रासी वान डेर डूसेन, नाथन कूल्टर नाइल, जिमी नीशाम , डेरिल मिशेल, करुण नायर, ओबेद मैककॉय, नवदीप सैनी, रविचंद्रन अश्विन, ट्रेंट बोल्ट, शिमरोन हेटमायर, देवदत्त पडिक्कल, प्रसिद्ध कृष्णा, युजवेंद्र चहल

सनराइजर्स हैदराबाद: केन विलियमसन (कप्तान), अभिषेक शर्मा, राहुल त्रिपाठी, एडेन मार्कराम, निकोलस पूरण, अब्दुल समद, प्रियम गर्ग, विष्णु विनोद, ग्लेन फिलिप्स, आर समर्थ, शशांक सिंह, वाशिंगटन सुंदर, रोमारियो शेफर्ड, मार्को जानसेन, जे सुचित, श्रेयस गोपाल, भुवनेश्वर कुमार, सीन एबॉट, कार्तिक त्यागी, सौरभ तिवारी, फजलहक फारूकी, उमरान मलिक, टी नटराजन