वह खिलाड़ी जिन्होंने साल 2020 में खेल से संन्यास ले लिया

वह खिलाड़ी जिन्होंने साल 2020 में खेल से संन्यास ले लिया

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व सलामी बल्लेबाज और किंग्स इलेवन पंजाब के बल्लेबाजी कोच वसीम जाफर ने साल 2020 में क्रिकेट से अलविदा कह दिया। जाफर ने भारतीय क्रिकेट में अच्छा प्रदर्शन किया। लेकिन इसके बाद वो रणजी ट्रॉफी में कमाल के रहें।

साल 2020 वैसे तो हर किसी के लिए बेहद ही खराब रहा है। इस साल कोरोना का प्रकोप ऐसा पड़ा जिससे कोई भी अछूता नहीं रहा। इस महामारी की वजह से हर चीज पर असर पड़ा। दुनिया भर के तमाम देशों में लॉकडाउन की स्थिति हुई। इस महामारी के साथ ही साल 2020 में खेल जगत के कई बड़े खिलाड़ियों ने भी अपने फैंस को काफी निराश किया। इन खिलाड़ियों में से किसी ने अचानक से संन्यास का मन बना लिया तो किसी खिलाड़ी ने कोरोना की वजह से खेल रूक जाने के बाद छोड़ने की योजना तैयार की। ऐसे में साल 2020 में उन बड़े खिलाड़ियों के बारे में जानते है जिन्होंने एक पल में संन्यास का ऐलान कर दिया और साथ ही अपने फैंस को हमेशा के लिए खेल से जुड़ी यादें तोहफे में छोड़ गए।

इसे भी पढ़ें: शर्मनाक हार से दुखी भारतीय क्रिकेट टीम, गौतम गंभीर ने इस तरह बढ़ाया बल्लेबाजों का मनोबल

महेंद्र सिंह धोनी 

भारतीय टीम के पूर्व कप्तान और टीम इंडिया को 2 बार वर्ल्ड चैंपियन बनाने वाले महेंद्र सिंह धोनी के संन्यास के कयास लंबे समय से लगाए जा रहे थे। हर किसी को धोनी से 2019 वर्ल्ड कप के बाद संन्यास की उम्मीद थी वहीं उनके फैंस चाहते थे कि धोनी अभी कुछ साल और खेलें लेकिन शायद धोनी के मन में कुछ और ही छुपा था। तभी तो महेंद्र सिंह धोनी ने साल 2020 में15 अगस्त की शाम को अपने इंस्टाग्राम पर एक वीडियो डाल कर अपने अंतर्राष्ट्रीय करियर को अलविदा कह दिया। इससे पहले भारतीय फैन्स को उम्मीद थी कि वो ऑस्ट्रेलिया में होने वाले टी20 विश्व कप के लिये एक बार फिर भारतीय टीम में वापसी करेंगे। लेकिन कोरोना की वजह से विश्व कप 2021 के लिए टल गया और शायद धोनी को भी लगा कि यह वक्त लंबा हो सकता है। ऐसे में महेंद्र सिंह धोनी ने अचानक से संन्यास का ऐलान कर दिया। 

सुरेश रैना

15 अगस्त 2020 को महेंद्र सिंह धोनी ने संन्यास का ऐलान किया तो ज्यादातर लोगों को इसका झटका नहीं लगा। लेकिन इस दिन सुरेश रैना ने भी धोनी के साथ इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास का ऐलान कर दिया। 15 अगस्त के मौके पर फैन्स अभी धोनी के संन्यास के सदमे से उबर ही रहे थे कि टीम इंडिया के लिए मिडिल आर्डर में शानदार पारियां खेलने वाले सुरेश रैना ने भी अंतर्राष्ट्रीय करियर को अलविदा कह दिया। रैना के संन्यास के बाद उनके फैंस को उनसे आईपीएल 2020 में खेलने की उम्मीद थी। लेकिन निजी कारणों की वजह से वो आईपीएल नहीं खेल सकें और अब 2021 में सैय्यद मुश्ताक अली ट्रॉफी में फिर से उनके मैदान पर उतरने की उम्मीद दिखाई पड़ रही है। 

मारिया शारापोवा

टेनिस के प्रशंसकों के लिए साल 2020 बेहद ही खराब रहा। इस साल ऑस्ट्रेलिया ओपन में पहले राउंड में हार के बाद दिग्गज खिलाड़ी और पूर्व वर्ल्ड नंबर 1 मारिया शारापोवा ने संन्यास का ऐलान कर दिया। अपने 19 साल के लंबे कॅरियर में शारापोवा ने 5 बार ग्रैंड स्लैम खिताब नाम किया। वह 21 सप्ताह तक वर्ल्ड नंबर 1 के रिकार्ड पर कब्जा जमाने वाली खिलाड़ी थी। इस पूर्व रूसी टेनिस खिलाड़ी ने 39 खिताब अपने नाम किए जिसमें 36 एकल और 3 युगल में थे। इसके साथ ही शारापोवा ने 2012 लंदन ओलपिंक में रजत पदक भी जीतने का कारनामा किया था। 

डेविड विला

इस खिलाड़ी को मौजूदा दौर के सबसे बेहतरीन स्ट्राइकर्स में शुमार किया जाता था। स्पेन के लिए डेविड विला ने जो भी प्रदर्शन किया उसे कोई भूल नहीं सकता। साल 2010 का फुटबॉल वर्ल्ड कप इस खिलाड़ी के स्वर्णिम दौर में सबसे प्रमुख रहा। जहां उन्होंने टूर्नामेंट में सबसे ज्यादा गोल करते हुए टीम को वर्ल्ड कप जिताने में सबसे महत्तवपूर्ण योगदान निभाया। विला ने वेलेन्सिया के लिए खेलने के साथ ही बार्सिलोना के लिए भी खूब फुटबॉल खेला। लेकिन इस खिलाड़ी ने साल 2020 में 38 साल की उम्र में फुटबॉल को अलविदा कह दिया। जिसकी वजह से फैंस को काफी निराशा भी हुई।

इसे भी पढ़ें: भारत के खराब प्रदर्शन पर बोले शेन वॉर्न, कहा- MCG पर भारत की धज्जियां उड़ा देगी आस्ट्रेलियाई टीम

वसीम जाफर

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व सलामी बल्लेबाज और किंग्स इलेवन पंजाब के बल्लेबाजी कोच वसीम जाफर ने साल 2020 में क्रिकेट से अलविदा कह दिया। जाफर ने भारतीय क्रिकेट में अच्छा प्रदर्शन किया। लेकिन इसके बाद वो रणजी ट्रॉफी में कमाल के रहें। जाफर ने रणजी ट्रॉफी में सबसे ज्यादा रन बनाने का भी रिकार्ड अपने नाम किया। लगातार दो साल विदर्भ के साथ रणजी ट्रॉफी जीतने वाले जाफर ने साल 2020 में क्रिकेट को अलविदा कहना ही बेहतर समझा। फिलहाल जाफर सोशल मीडिया पर अपने मजाकिया पोस्टस के लिये काफी मशहूर हैं। 

इरफान पठान

इरफान पठान ने साल 2020 में 4 जनवरी को अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कह दिया। क्रिकेट से संन्यास लेने के बाद भी इरफान पठान मैदान पर कई बार उतरें। हाल ही में इरफान ने लंका प्रीमियर लीग में कैंडी टस्कर्स की तरफ क्रिकेट खेला। इसके साथ ही वो इस साल रोड सेफ्टी वर्ल्ड सीरीज में खेलते नजर आये थे। इरफान संन्यास के बाद कमेंट्री करते भी नजर आते हैं। 

शेन वॉटसन 

ऑस्ट्रेलिया के लिए अंतराष्ट्रीय क्रिकेट छोड़ने के बाद शेन वॉटसन ने आईपीएल से भी हमेशा के लिए अलविदा कह दिया। वॉटसन इस बार आईपीएल में चेन्नई के लिए क्रिकेट खेले थे। लेकिन बल्ले से उनका प्रदर्शन अच्छा नहीं रहा। ऐसे में उम्र के इस पड़ाव के बाद उन्होंने हमेशा के लिए प्रतियोगी क्रिकेट को छोड़ना बेहतर समझा। अब वो विश्व में कही भी होने वाली टी-20 लीग में भी खेलते नजर नहीं आएंगे। 

प्रज्ञान ओझा

भारतीय टीम के पूर्व बायें हाथ के गेंदबाज प्रज्ञान ओझा ने भी इस साल अपने अंतर्राष्ट्रीय कॅरियर को अलविदा कह दिया। प्रज्ञान ओझा ने आईपीएल में मुंबई इंडियंस और डेक्कन चार्जर्स के साथ काफी क्रिकेट खेला लेकिन पिछले लंबे समय से वो आईपीएल नहीं खेल पा रहे थे। इसके साथ ही 2013 में अपना आखिरी टेस्ट मैच खेलने वाले ओझा टीम इंडिया में भी वापसी नहीं कर पा रहे थे। इसलिए उन्होंने इस साल संन्यास लेना ही बेहतर समझा और क्रिकेट के हर प्रारूप को हमेशा के लिए अलविदा कह दिया।

- दीपक कुमार मिश्रा