अमेरिका ‘अनवरत युद्ध’ के इस काल को समाप्त कर ‘अनवरत कूटनीति’ के नए युग की शुरुआत कर रहा है: बाइडन

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  सितंबर 22, 2021   06:48
अमेरिका ‘अनवरत युद्ध’ के इस काल को समाप्त कर ‘अनवरत कूटनीति’ के नए युग की शुरुआत कर रहा है: बाइडन
प्रतिरूप फोटो

अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा, “अतीत के युद्धों को जारी रखने के बजाय, हम अपना ध्यान उन चुनौतियों पर केंद्रित कर रहे हैं जिन पर हमारा सामूहिक भविष्य टिका हुआ है।

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने मंगलवार को कहा कि अमेरिका ने अफगानिस्तान में 20 साल तक चले संघर्ष को समाप्त कर दिया है। उन्होंने कहा कि एक ओर अमेरिका इस अनवरत युद्ध काल को समाप्त कर रहा है,तो वहीं दूसरी ओर वह दुनिया भर के लोगों को ऊपर उठाने और लोकतंत्र का नवीनीकरण तथा इसकी रक्षा करने के लिए ‘‘अनवरत कूटनीति’’ के नए युग की शुरुआत कर रहा है।

संयुक्त राष्ट्र महासभा के 76वें उच्चस्तरीय सत्र में अपने पहले संबोधन में, बाइडन ने महासभा हॉल में एकत्रित विश्व नेताओं और राजनयिकों से कहा कि उनके विचार में दुनिया इतिहास के एक परिवर्तन बिंदु पर है।

इसे भी पढ़ें: विवादों को ‘बातचीत और सहयोग’ के जरिये सुलझायें:शी

अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा, “अतीत के युद्धों को जारी रखने के बजाय, हम अपना ध्यान उन चुनौतियों पर केंद्रित कर रहे हैं जिन पर हमारा सामूहिक भविष्य टिका हुआ है। इनमें इस महामारी को समाप्त करना, जलवायु संकट से निपटना, वैश्विक शक्ति गतिशीलता में बदलाव तय करना, व्यापार, साइबर और उभरती प्रौद्योगिकियों जैसे महत्वपूर्ण मुद्दों पर दुनिया के नियमों को आकार देना तथा आतंकवाद के खतरे का सामना करना शामिल है।

उन्होंने कहा, हमने अफगानिस्तान में 20 साल के संघर्ष को समाप्त कर दिया है और जब हम अनवरत युद्ध के इस काल को समाप्त कर रहे हैं, तो हम अनवरत कूटनीति के एक नए युग की शुरुआत भी कर रहे हैं।

हम लोकतंत्र के नवीनीकरण और इसकी रक्षा पर काम कर रहे हैं। बाइडन ने अफगानिस्तान पर संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के प्रस्ताव का उल्लेख किया, जिसे पिछले महीने 15-राष्ट्रों के संयुक्त राष्ट्र अंग की भारत की अध्यक्षता में पारित किया गया था।

इसे भी पढ़ें: प्रधानमंत्री मोदी के साथ 24 सितंबर को द्विपक्षीय बैठक करेंगे राष्ट्रपति जो बाइडेन: व्हाइट हाउस

उन्होंने कहा कि संयुक्त राज्य अमेरिका अपनी भूमिका निभाता रहेगा, लेकिन “यदि सभी राष्ट्र एक साथ काम करें तभी हम अधिक सफल और अधिक प्रभावशाली साबित हो पाएंगे।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।



Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

अंतर्राष्ट्रीय

झरोखे से...