पकड़ा गया ब्रिटिश झंडे वाला तेल टैंकर अब स्वतंत्र है: ईरान

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  सितंबर 23, 2019   18:25
पकड़ा गया ब्रिटिश झंडे वाला तेल टैंकर अब स्वतंत्र है: ईरान

इस्लामिक रिवोल्युशनरी गार्ड कोर ने होर्मुज की खाड़ी में 19 जुलाई को स्टेना इम्पेरियो को पकड़ लिया था। इस टैंकर का स्वामित्व रखने वाली कंपनी स्टेना बक के प्रमुख कार्यपालक एरिक हनेल ने स्वीडिश टेलीविजन चैनल एसवीटी से कहा कि हम समझते हैं कि जहाज को छोड़ने का राजनीतिक निर्णय लिया गया है।

तेहरान। ईरान ने सोमवार को कहा कि ब्रिटिश झंडे वाला टैंकर अब स्वतंत्र है। दो महीने से भी अधिक समय पहले इस टैंकर को ईरान ने खाड़ी में पकड़ लिया था। ईरान सरकार के प्रवक्ता अली रबीबी ने सोमवार को संवाददाता सम्मेलन में कहा कि कानूनी प्रक्रिया पूरी हो गयी है और उसके आधार पर तेल टैंकर को मुक्त करने की शर्तें पूरी हो गयी हैं और तेल टैंकर अब जा सकता है। हालांकि उन्होंने यह स्पष्ट नहीं किया कि स्वीडिश स्वामित्व वाले जहाज को कब छोड़ा जाएगा।

इसे भी पढ़ें: हसन रूहानी ने लगाया विदेशी ताकतों पर खाड़ी में असुरक्षा बढ़ाने का आरोप

इस्लामिक रिवोल्युशनरी गार्ड कोर ने होर्मुज की खाड़ी में 19 जुलाई को स्टेना इम्पेरियो को पकड़ लिया था। इस टैंकर का स्वामित्व रखने वाली कंपनी स्टेना बक के प्रमुख कार्यपालक एरिक हनेल ने स्वीडिश टेलीविजन चैनल एसवीटी से कहा कि हम समझते हैं कि जहाज को छोड़ने का राजनीतिक निर्णय लिया गया है। उन्होंने कहा कि हम आशा करते हैं कि वह कुछ घंटों में वहां से रवाना हो पाएगा, लेकिन हम किसी भी चीज को ‘बस हो ही गया’ के रूप में नहीं लेना चाहते हैं।

इसे भी पढ़ें: हसन रूहानी ने लगाया विदेशी ताकतों पर खाड़ी में असुरक्षा बढ़ाने का आरोप

हम यह सुनिश्चित कर लेना चाहते हैं कि जहाज ईरानी समुद्री सीमा से आगे बढ़े। दरअसल जब इस जहाज को ईरान ने पकड़ा था तब कुछ घंटे पहले ही जिब्राल्टर में एक ब्रिटिश अदालत ने कहा था कि वह ईरानी तेल टैंकर ग्रैस को हिरासत में रखने की अवधि बढ़ा रही है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।