चीन का बड़ा आरोप, कहा- अमेरिका का मकसद तनाव भड़काना

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Feb 12 2019 4:02PM
चीन का बड़ा आरोप, कहा- अमेरिका का मकसद तनाव भड़काना

यूएसएस स्प्रुआंस और यूएसएस प्रेबल ऐसे वक्त में द्वीप के नजदीक से होकर गुजरे हैं जब अमेरिका और चीन को इस हफ्ते अहम व्यापार वार्ता करनी है।

बीजिंग। चीन ने आरोप लगाया कि अमेरिका ने सोमवार को विवादित दक्षिण चीन सागर द्वीप के पास से मिसाइल विध्वंसक भेजकर ‘तनाव भड़काने’ की कोशिश की है। चीन के विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता हुआ चुनइंग ने नियमित संवाददाता सम्मेलन में बताया कि बीजिंग के दावे वाले स्पार्टली द्वीप के पास से सोमवार तड़के दो युद्ध पोत गुजरे थे। इसे अमेरिका ने ‘नौवहन अभियान की आजादी’ बताया है। उन्होंने कहा कि अमेरिका का मकसद दक्षिण चीन सागर में तनाव भड़काना और शांति को कम करना है। चुनइंग ने अमेरिका से ‘भड़काऊ कार्रवाई’ नहीं करने का अनुरोध किया।

इसे भी पढ़ें- इज़राइली सेना के टैंक ने सीरिया में गोलाबारी की : सरकारी मीडिया

यूएसएस स्प्रुआंस और यूएसएस प्रेबल ऐसे वक्त में द्वीप के नजदीक से होकर गुजरे हैं जब अमेरिका और चीन को इस हफ्ते अहम व्यापार वार्ता करनी है। इस बातचीत का मकसद दुनिया की दो सबसे बड़ी अर्थव्यवस्थाओं के बीच व्यापार जंग को रोकना है।
 


 
चीन लगभग समूचे दक्षिण चीन सागर पर अपना दावा करता है, जबकि ताइवान, फिलीपीन, ब्रुनेई, मलेशिया और वियतनाम भी इस पर दावा करते हैं। अमेरिका और उसके सहयोगी अक्सर दक्षिण चीन सागर द्वीपों के नजदीक से अपने विमान और युद्ध पोत भेजते हैं।

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप