डोनाल्ड ट्रंप ने साथा एक बार फिर से चीन पर निशाना, कोरोना वायरस को कहा ‘कुंग फ्लू’

gg
अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने घातक कोरोना वायरस के दुनियाभर में फैलने के लिए एक बार फिर चीन को जिम्मेदार ठहराया और इस बीमारी को ‘कुंग फ्लू’ कहा। यह महामारी दुनियाभर में 4,50,000 से अधिक लोगों की जान ले चुकी है और 85 लाख से ज्यादा लोग इसकी चपेट में है।

वाशिंगटन। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने घातक कोरोना वायरस के दुनियाभर में फैलने के लिए एक बार फिर चीन को जिम्मेदार ठहराया और इस बीमारी को ‘कुंग फ्लू’ कहा। यह महामारी दुनियाभर में 4,50,000 से अधिक लोगों की जान ले चुकी है और 85 लाख से ज्यादा लोग इसकी चपेट में है। ट्रंप पिछले साल दिसंबर में चीन के वुहान शहर से शुरू हुई कोरोना वायरस महामारी के लिए बार-बार चीन को जिम्मेदार ठहराते आ रहे हैं। उन्होंने बीजिंग पर वायरस के बारे में जानकारी छिपाने का आरोप लगाया था।

इसे भी पढ़ें: डोनाल्‍ड ट्रंप बोले- महात्मा गांधी की प्रतिमा को विकृत करना ‘अपमानजनक’

ट्रंप प्रशासन के अधिकारियों ने इसकी उत्पत्ति के कारण इसे वुहान वायरस कहा है। अमेरिका में इस साल की शुरुआत में कोरोना वायरस महामारी का प्रकोप शुरू होने के बाद शनिवार को ओकलाहोमा के टुलसा में अपनी पहली चुनावी रैली को संबोधित करते हुए ट्रंप ने कहा कि कोविड-19 बीमारी के इतने नाम हैं जितने इतिहास में किसी रोग के नहीं हुए। उन्होंने कहा, ‘‘मैं इसे कुंग फ्लू कह सकता हूं। मैं इसके 19 अलग-अलग नाम ले सकता हूं। कई लोग इसे वायरस कहते हैं, जो यह है भी। कई इसे फ्लू कहते हैं। अंतर क्या है। मुझे लगता है कि हमारे पास इसके 19 या 20 नाम हैं।’’

इसे भी पढ़ें: हैकर्स ने डोनाल्ड ट्रंप और बाइडेन के कैम्पेन को हैक करने का किया प्रयास: गूगल

‘कुंग फ्लू’ शब्द चीन की परंपरागत मार्शल आर्ट ‘कुंग फू’ से मिलता जुलता है। जॉन्स हॉपकिन्स कोरोना वायरस रिसोर्स सेंटर के अनुसार कोरोना वायरस से दुनियाभर में 85 लाख से ज्यादा लोग संक्रमित हो चुके हैं और 4.5 लाख से अधिक लोगों की जान जा चुकी है। दुनियाभर में इस बीमारी से सबसे ज्यादा प्रभावित अमेरिका हुआ है जहां संक्रमण के 22 लाख से अधिक मामले हैं और 1,19,000 से ज्यादा लोग मारे जा चुके हैं। ट्रंप (74) नवंबर में होने वाले राष्ट्रपति चुनाव में डेमोक्रेटिक पार्टी के उम्मीदवार और पूर्व उप राष्ट्रपति 77 वर्षीय जो बाइडेन को पराजित कर पुन: राष्ट्रपति बनने की जी तोड़ कोशिश कर रहे हैं।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़