आर्मी चीफ बाजवा के साथ मीटिंग के बाद इमरान खान ने टाला अपना संबोधन, विपक्ष की बड़ी बैठक

आर्मी चीफ बाजवा के साथ मीटिंग के बाद इमरान खान ने टाला अपना संबोधन, विपक्ष की बड़ी बैठक

पाकिस्तान के दोनों बड़े अफसर अचानक इमरान खान से आज मिलने पहुंचे थे। यह मुलाकात ऐसे समय में हुई है जब इमरान सरकार के ऊपर संकट के बादल मंडरा रहे हैं। इसी कड़ी में आज ही सहयोगी एमक्यूएम के सदस्य और कानून मंत्री फारूग नसीम और आईटी मंत्री अमीन उल हक ने भी अपना इस्तीफा दे दिया है।

पाकिस्तान में राजनीतिक हलचल तेज है। इमरान खान की मुश्किलें लगातार बढ़ती जा रही है। अविश्वास प्रस्ताव का सामना कर रही इमरान सरकार के लिए फिलहाल राहत की कोई खबर दिखाई नहीं दे रही है। हालांकि आज इमरान खान राष्ट्र को संबोधित करने वाले थे। लेकिन आर्मी चीफ जनरल कमर जावेद बाजवा और आईएसआई चीफ नदीम अंजुम से मुलाकात के बाद उन्होंने अपना संबोधन फिलहाल टाल दिया है। पाकिस्तान के दोनों बड़े अफसर अचानक इमरान खान से आज मिलने पहुंचे थे। यह मुलाकात ऐसे समय में हुई है जब इमरान सरकार के ऊपर संकट के बादल मंडरा रहे हैं। इसी कड़ी में आज ही सहयोगी एमक्यूएम के सदस्य और कानून मंत्री फारूग नसीम और आईटी मंत्री अमीन उल हक ने भी अपना इस्तीफा दे दिया है।

इसे भी पढ़ें: पाकिस्तान में विपक्ष की एकजुटता, बिलावल भुट्टो बोले- इमरान खान को देना होगा इस्तीफा, शहबाज बनेंगे पीएम

दूसरी ओर विपक्ष की एकजुटता पाकिस्तान में लगातार देखी जा रही है। खबर यह है कि विपक्ष की एक बड़ी बैठक पाकिस्तान में फिलहाल हो रही है। इसमें इमरान खान की पार्टी के भी कुछ सदस्य शामिल है। मुत्तहिदा कौमी मूवमेंट-पाकिस्तान (एमक्यूएम-पी) ने इस्लामाबाद में एक प्रेस कांफ्रेंस करके ऐलान किया कि वह विपक्षी खेमे में शामिल हो गयी है। एमक्यूएम-पी प्रमुख खालिद मकबूल सिद्दिकी ने कहा, ‘‘हम सहिष्णुता और सच्चे लोकतंत्र की राजनीति के लिए नई शुरुआत करना चाहते हैं।’’ देखना दिलचस्प होगा कि आखिर पाकिस्तान में इमरान खान की सरकार कितने दिनों तक चलती है। लेकिन कल पाकिस्तान की नेशनल असेंबली में अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा होगी जिसके बाद वोटिंग की संभावना है। 

इसे भी पढ़ें: अविश्वास की परीक्षा से पहले ही नाकाम, आज भूतपूर्व हो जाएंगे इमरान? ISI और आर्मी चीफ के साथ कर रहे बैठक

पाकिस्तान में संकट से घिरे प्रधानमंत्री इमरान खान ने बुधवार को संघीय कैबिनेट का विशेष सत्र बुलाया। यह सत्र इस तरह की रिपोर्ट मिलने के बीच बुलाया गया कि सत्ताधारी गठबंधन के सदस्य दल एमक्यूएम-पी के दो मंत्रियों ने इस्तीफा दे दिया है। रिपोर्ट के मुताबिक मंत्रियों ने इस्तीफा अपनी पार्टी के इस ऐलान के बाद दिया कि वह प्रधानमंत्री इमरान खान के खिलाफ लाये गये अविश्वास प्रस्ताव का समर्थन करेगी। सरकार द्वारा संचालित ‘‘रेडियो पाकिस्तान’’ की रिपोर्ट के मुताबिक एक विशेष बुलावे पर सहयोगी दलों के प्रमुख भी कैबिनेट के विशेष सत्र में भाग लेंगे, जिसकी अध्यक्षता प्रधानमंत्री इमरान खान करेंगे।