ISIS का खूंखार आतंकी गिरफ्तार, जेल ले जाने के लिए बुलाना पड़ा मिनी ट्रक

ISIS का खूंखार आतंकी गिरफ्तार, जेल ले जाने के लिए बुलाना पड़ा मिनी ट्रक

मुफ्ती अबु अब्दुल बारी जिसे जज्बा द जिहादी के नाम से भी जाना जाता है को गिरफ्तार कर लिया गया है। इस आतंकी को इराकी सेना के स्वॉट दस्ते ने मोसुल शहर से गिरफ्तार किया है। लंदन के इस्लामी चरमपंथ विरोधी कार्यकर्ता माजिद नवाज ने इस आतंकी की एक तस्वीर ट्वीटर पर पोस्ट की है।

नई दिल्ली। अकसर गिरफ्तारी के समय आरोपी को पुलिस वैन या कार में डाल कर ले जाती है लेकिन ISIS के इस चरमपंथी नेता को पिकअप ट्रक में लेकर जाना पड़ा। इस आतंकी का नाम है मुफ्ती अबु अब्दुल बारी जिसे जज्बा द जिहादी के नाम से भी जाना जाता है। इस आतंकी को इराकी सेना के स्वॉट दस्ते ने मोसुल शहर से गिरफ्तार किया है। इस गिरफ्तारी ने सोशल मीडिया का काफी ध्यान खींचा है। वजह है उनका मोटापा।

जब इराकी सेना उसे गिरफ्तार करने पहुंची तो वह पुलिस की कार में फिट नहीं हो पाया और इसलिए उसे एक पिकअप ट्रक में डालकर जेल ले जाना पड़ा। उसके इस साइज ने इराकी सेना के पसीने छुड़ा दिए और काफी मेहनत के बाद जाकर उसकी गिरफ्तारी हो पाई। बता दें कि आतंकी मुफ्ती अबु अब्दुल बारी का वजन 560 पाउंड (250) किलोग्राम है।

इसे भी पढ़ें: इराक में सरकार विरोधी प्रदर्शन में दो लोगों की मौत

इसके मोटापे को छोड़ कर देखा जाए तो यह एक आतंकी संगठन ISIS का एक महत्वपूर्ण नेता है। यह सुरक्षा बलों के खिलाफ भड़काऊ भाषण की वजह से काफी प्रचलित है। रिपोर्ट के मुताबिक, इस आतंकी ने सभी मौलवियों के खिलाफ हत्या के फतवे जारी किए थे जिन्होंने आतंकी संगठन ISIS का समर्थन करने से इनकार कर दिया था। 

इसे भी पढ़ें: इराक में अमेरिकी एयरबेस में फिर हुआ हमला, रॉकेट हमले में 4 जख्मी

लंदन के इस्लामी चरमपंथ विरोधी कार्यकर्ता माजिद नवाज ने इस आतंकी की एक तस्वीर ट्वीटर पर पोस्ट की है। इस पोस्ट में उन्होंने इस आतंकी के सारे गलत कामों की जानकारी दी है और लिखा है कि अच्छा है कि सीरियाई, इराकी और अन्य लोग इस शख्स की गिरफ्तारी के गवाह बन रहे हैं। तस्वीर में साफ देखा जा सकता है कि वह मोटापे की बीमारी से काफी ग्रस्त है। बता दें कि इस चरमपंथी आतंकी की गिरफ्तारी ने ISIS को भयंकर झटका दिया है।

इसे भी देखें- Soleimani को क्यों मारा Trump ने, क्या एक और Gulf War झेल पायेगी दुनिया






Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

अंतर्राष्ट्रीय

झरोखे से...