म्यांमार की सैन्य सत्ता ने सू ची को फिर दोषी ठहराया, ऑस्ट्रेलियाई अर्थशास्त्री को तीन साल की जेल

 Suu Kyi
ANI
सैन्य शासन वाले म्यांमा की एक अदालत ने देश की नेता आंग सान सू ची को बृहस्पतिवार को एक और आपराधिक मामले में दोषी ठहराया और ऑस्ट्रेलियाई अर्थशास्त्री शॉन टर्नल को गोपनीयता कानून का उल्लंघन करने के मामले में तीन साल जेल की सजा सुनाई।

बैंकॉक। सैन्य शासन वाले म्यांमा की एक अदालत ने देश की नेता आंग सान सू ची को बृहस्पतिवार को एक और आपराधिक मामले में दोषी ठहराया और ऑस्ट्रेलियाई अर्थशास्त्री शॉन टर्नल को गोपनीयता कानून का उल्लंघन करने के मामले में तीन साल जेल की सजा सुनाई। एक विधिक अधिकारी ने यह जानकारी दी। अधिकारी ने नाम उजागर नहीं करने की शर्त पर बताया कि गोपनीयता कानून के तहत सू ची को भी तीन साल जेल की सजा सुनाई गई है। उन्होंने कहा कि सू ची के मंत्रिमंडल के तीन सदस्यों को भी दोषी पाया गया और उन्हें तीन-तीन साल कैद की सजा दी गई है।

इसे भी पढ़ें: समरकंद में यूक्रेन को लेकर प्रधानमंत्री मोदी की टिप्पणी से भारत के रुख में बदलाव नहीं: जयशंकर

टर्नल सिडनी के मैक्वायरी विश्वविद्यालय में अर्थशास्त्र के एसोसिएट प्रोफेसर हैं और वह सू ची के सलाहकार भी थे। म्यांमा में पिछले साल सेना ने चुनी हुई सरकार का तख्तापलट कर सत्ता हथिया ली थी। टर्नल को पांच दिन बाद गिरफ्तार किया गया था जब वह हवाई अड्डे जाने के लिए कार का इंतजार कर रहे थे।

इसे भी पढ़ें: बैंक कर्ज में औद्योगिक ऋण की हिस्सेदारी घटी, व्यक्तिगत कर्ज का हिस्सा बढ़ा: आरबीआई

टर्नल पर आरोप के मामले की पूरी जानकारी सार्वजनिक नहीं की गई है हालांकि, सरकारी टीवी चैनल ने पिछले साल बताया था कि टर्नल के पास देश की वित्तीय प्रणाली की गोपनीय जानकारी थी और वह उसे लेकर म्यांमा से भागने वाले थे। टर्नल और सू ची ने इन आरोपों का खंडन किया है। सू ची पर तमाम अन्य आरोप हैं और उन्हें 20 साल के लिए जेल की सजा सुनाई जा चुकी है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़