संसद की कार्यवाही स्थगित कर इमरान ने चला बड़ा दांव, EC ने थमाया 50 हजार का नोटिस

संसद की कार्यवाही स्थगित कर इमरान ने चला बड़ा दांव, EC ने थमाया 50 हजार का नोटिस

पाकिस्तान के चुनाव आयोग ने इमरान खान को बड़ा झटका दे दिया है। इमरान पर आचार संहिता का उल्लंघन करने पर पाकिस्तान की शीर्ष चुनाव निकाय ने 50 हजार रुपये का जुर्माना लगा दिया है।

पाकिस्तान के कप्तान इमरान खान के ऊपर मंडराता सियासी संकट थमने का नाम नहीं ले रहा है। सरकार बचाने के लिए इमरान खान ने बड़ा दांव  चलते हुए संसद की कार्यवाही को 28 मार्च तक स्थगित कर दिया। लेकिन अब नियाजी खान के सामने एक नई मुसीबत उनके सामने आ गयी। पाकिस्तान के चुनाव आयोग ने इमरान खान को बड़ा झटका दे दिया है। इमरान पर आचार संहिता का उल्लंघन करने पर पाकिस्तान की शीर्ष चुनाव निकाय ने 50 हजार रुपये का जुर्माना लगा दिया है।

इसे भी पढ़ें: इमरान खान के लिए एक तरफ कुआं है तो दूसरी तरफ खाई, देखते हैं वह कहां जाकर गिरते हैं

इमरान खान पर ये जुर्माना खैबर पख्तूनवा के स्वात घाटी में रैली करने पर लगाया गया है। एक्सप्रेस ट्रिब्यून की रिपोर्ट के अनुसार पाकिस्तान के चुनाव आयोग (ईसीपी) ने 15 मार्च को उन्हें स्वात में एक सार्वजनिक रैली को संबोधित करने से रोक दिया था, लेकिन प्रधानमंत्री ने निर्देशों की अनदेखी की और एक दिन बाद एक रैली को संबोधित किया।

 ईसीपी की आचार संहिता के अनुसार कोई भी सार्वजनिक कार्यालय धारक उन जिलों का दौरा नहीं कर सकता है जहां चुनाव हो रहे हैं। खैबर पख्तूनख्वा में दूसरे चरण में स्थानीय निकाय चुनाव 31 मार्च को होने हैं। चुनाव आयोग ने आचार संहिता के उल्लंघन के लिए खान को दो बार नोटिस जारी किया था। 

इसे भी पढ़ें: पाकिस्तान के लाहौर में भगत सिंह, राजगुरु और सुखदेव को श्रद्धांजलि दी गई

 आखिरी नोटिस 21 मार्च को खैबर-पख्तूनख्वा के मलकंद इलाके में एक राजनीतिक रैली को संबोधित करने के लिए भेजा गया था। प्रधानमंत्री और योजना और विकास मंत्री असद उमर ने नोटिस के खिलाफ इस्लामाबाद उच्च न्यायालय में एक याचिका दायर की थी। याचिका के मुताबिक, ''चुनाव प्रचार को लेकर नए कानून के बावजूद नोटिस जारी किए गए हैं।