अमेरिका में पुलिसकर्मियों ने अश्वेत आरोपी को रस्सी से बांध कर चलाया पैदल, मचा बवाल

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Aug 7 2019 10:29AM
अमेरिका में पुलिसकर्मियों ने अश्वेत आरोपी को रस्सी से बांध कर चलाया पैदल, मचा बवाल
Image Source: Google

अमेरिका में घोड़े पर सवार दो पुलिस अधिकारियों द्वारा एक अश्वेत व्यक्ति को रस्सी से बांध कर चलने की तस्वीर वायरल होने से विवाद हो गया है। इस बीच, टेक्सास पुलिस के प्रमुख ने पूरे घटनाक्रम पर माफी मांगी है। टेक्सास के तटीय शहर ग्लेवस्टॉन के पुलिस प्रमुख वेरनॉन हेले ने बताया कि शनिवार को डोनाल्ड नीले को अनधिकृत रूप से प्रवेश करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। उसे पुलिस की कार से थाने तक पहुंचाया जाना था।

वॉशिंगटन। अमेरिका में घोड़े पर सवार दो पुलिस अधिकारियों द्वारा एक अश्वेत व्यक्ति को रस्सी से बांध कर चलने की तस्वीर वायरल होने से विवाद हो गया है। इस बीच, टेक्सास पुलिस के प्रमुख ने पूरे घटनाक्रम पर माफी मांगी है। टेक्सास के तटीय शहर ग्लेवस्टॉन के पुलिस प्रमुख वेरनॉन हेले ने बताया कि शनिवार को डोनाल्ड नीले को अनधिकृत रूप से प्रवेश करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। उसे पुलिस की कार से थाने तक पहुंचाया जाना था। 

चूंकि उस समय घुड़सवार पुलिस ही मौजूद थी, इसलिए नीले को रस्सी से बांधकर पैदल ले जाना पड़ा। उन्होंने सोमवार को फेसबुक पोस्ट में लिखा, ‘‘ हालांकि, यह निर्धारित प्रक्रिया है और कुछ मामलों में सबसे माकूल है। मेरा मानना है कि इस मामले में अधिकारियों ने गलत आकलन किया। सबसे पहले मैं नीले को अनावश्यक हुई शर्मिंदगी के लिए माफी मांगता हूं।’’ हेले ने घोषणा की कि नीति को बदल दिया गया है और भविष्य में इस तरीके को नहीं अपनाया जाएगा। 

इसे भी पढ़ें: अनुच्छेद 370: अमेरिका स्थित मुस्लिम संगठन ने प्रदर्शन करने का किया ऐलान

हेले के इस बयान के बाद लोगों की नाराजगी और बढ़ गई है। कुछ कार्यकर्ताओं ने इसे कमजोर प्रतिक्रिया करार दिया है। वहीं, अन्य लोगों ने दोषी अधिकारियों को बर्खास्त करने या सख्त कार्रवाई करने की मांग की है। उन्होंने कहा कि जिस से तरह से नीले को अपमानित किया गया है, उसने देश के नस्ली इतिहास की याद दिला दी है। ‘नेशनल एसोसिएशन फॉर द एडवांसमेंट ऑफ कलर्ड पीपुल्स’ (एनएएसीपी) के हृयूस्टन चैप्टर के अध्यक्ष जेम्स डगलस ने हृयूस्टन क्रोनिकल से कहा कि यह 2019 नहीं, बल्कि 1819 है। 



रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप