किम के इशारों में फिर किया गया प्रोजेक्टफाइल्स का टेस्ट

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  नवंबर 29, 2019   14:55
किम के इशारों में फिर किया गया प्रोजेक्टफाइल्स का टेस्ट

गौरतलब है कि उत्तर कोरिया और अमेरिका के बीच परमाणु निशस्त्रीकरण पर बातचीत फिलहाल ठप है। इस बीच, जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे ने कहा कि उत्तर कोरिया ने बैलिस्टिक मिसाइलों का परीक्षण किया है जो अंतरराष्ट्रीय समुदाय के लिए एक गंभीर चुनौती है।

सियोल। उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग-उन ने गुरुवार को एक ‘सुपर-लार्ज मल्टीपल लॉन्च रॉकेट सिस्टम’ के परीक्षण का निरीक्षण किया। प्योंगयांग की सरकारी मीडिया केसीएनए ने शुक्रवार को संकेत दिया कि यह इस श्रृंखला का आखिरी परीक्षण हो सकता है। वहीं दक्षिण कोरियाई अधिकारियों ने कहा कि प्योंगयांग ने गरुवार को एक ‘प्रोजेक्टाइल्स’ का परीक्षण किया जिसे चिह्नित नहीं किया जा सका।

इसे भी पढ़ें: किम जोंग के इशारों पर उत्तर कोरिया ने फिर किया सैन्य अभ्यास

गौरतलब है कि उत्तर कोरिया और अमेरिका के बीच परमाणु निशस्त्रीकरण पर बातचीत फिलहाल ठप है। इस बीच, जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे ने कहा कि उत्तर कोरिया ने बैलिस्टिक मिसाइलों का परीक्षण किया है जो अंतरराष्ट्रीय समुदाय के लिए एक गंभीर चुनौती है। संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के प्रतिबंधों के तहत उत्तर कोरिया पर ऐसे हथियारों का परीक्षण करने पर प्रतिबंध है।

इसे भी पढ़ें: अमेरिका को दक्षिण कोरिया के साथ सैन्य अभ्यास पूरी तरह से खत्म करना चाहिए: उत्तर कोरिया

केसीएनए ने परीक्षण देखने पहुंचे किम की मुस्कुराती हुई एक तस्वीर साझा की। उसने ‘फोर-बैरल ट्रक-माउंटेड लॉन्चिंग सिस्टम’ से रॉकेट के आसमान में जाते हुए भी एक तस्वीर साझा की। समाचार एजेंसी ने कहा कि प्रणाली की युद्धक क्षमताओं की जांच करने के लिए किए गए आखिरी परीक्षण का लक्ष्य हथियार प्रणाली की सैन्य और तकनीकी श्रेष्ठता और इसकी विश्वसनीयता को साबित करना था। उन्होंने बताया कि किम ने इस पर संतोष जताया। ‘केसीएनए’ ने किम के हवाले से कहा कि सेना के लिए इस साल कई हथियार और उपकरणों का निर्माण किया गया।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।