पाकिस्तान में निकला ‘लोकतंत्र का जनाजा’, सदन में चारपाई लेकर पहुंचे PTI के विधायक, मचा हंगामा

PTI MLAs
अंकित सिंह । Jun 29, 2021 2:11PM
सबसे खास बात तो यह रही कि जिस विधायक ने सिंध विधानसभा के अंदर चारपाई लेकर पहुंचा वह किसी और का नहीं बल्कि इमरान खान की पार्टी का ही सदस्य है। इतना ही नहीं, लोकतंत्र को लेकर पीटीआई के विधायक सदन में हंगामा करने के इरादे से पहुंचे थे।

पाकिस्तान में इमरान खान के सरकार को अपने ही पार्टी के विधायकों की वजह से शर्मिंदगी का सामना करना पड़ रहा है। दरअसल, पाकिस्तान के सिंध प्रांत में लोकतंत्र का जनाजा चारपाई पर निकाला गया। सबसे खास बात तो यह रही कि जिस विधायक ने सिंध विधानसभा के अंदर चारपाई लेकर पहुंचा वह किसी और का नहीं बल्कि इमरान खान की पार्टी का ही सदस्य है। इतना ही नहीं, लोकतंत्र को लेकर पीटीआई के विधायक सदन में हंगामा करने के इरादे से पहुंचे थे। इसी दौरान चारपाई पर लोकतंत्र का जनाजा निकालने का प्रयास किया गया। इस दौरान विधायकों ने धरना प्रदर्शन किया और जमकर हंगामा मचाया।

इसे भी पढ़ें: पाक ने इमरान खान के पूर्व शीर्ष सहयोगी की इजराइल यात्रा संबंधी मीडिया की खबर खारिज की

पूरा का पूरा मामला इमरान खान की पार्टी के विधायक से जुड़ा हुआ है। एक निजी चैनल की रिपोर्ट के मुताबिक विधानसभा सत्र के दौरान इमरान खान की पार्टी के सदस्य को बोलने का मौका नहीं मिल सका जिससे कि इमरान खान के पार्टी के विधायक भड़क गए। इसके विरोध में वह चारपाई लेकर सदन के अंदर पहुंच गए। इसका एक वीडियो भी वायरल हो रहा है। विधायक लोकतंत्र का जनाजा जैसे शब्दों का इस्तेमाल कर रहे हैं। इस दौरान सुरक्षाकर्मियों के साथ में उनकी धक्का-मुक्की होती है। इससे पहले पाकिस्तान के संसद में सांसदों के बीच गाली गलौज का भी वीडियो को वायरल हुआ था

इसे भी पढ़ें: श्रीनगर में मुठभेड़ लश्कर का कमांडर और एक पाकिस्तानी आतंकवादी ढेर

विधानसभा में स्पीकर ने पीटीआई के विधायकों को संयम बरतने की अपील की। लेकिन वह कुछ सुनने को तैयार नहीं थे। विवाद के बाद प्रांतीय मंत्री नासिर हुसैन शाह और मुकेश कुमार चावला ने विधायकों के चारपाई विरोध की आलोचना की। उन्होंने कहा कियह इमरान खान की पीटीआई है, जिसने लोकतंत्र की हत्‍या की है। विधानसभा में पत्रकारों की सुरक्षा के लिए एक विशेष विधेयक पेश किया गया जिसे मंजूरी भी मिल गई। हाल के दिनों में पाकिस्तान में पत्रकारों पर हमले बढ़ गए हैं इसलिए इस विधायक को लाया गया है।

अन्य न्यूज़