शराब और सिगरेट को हाथ भी नहीं लगाते है ट्रंप और बाईडेन! जानिए क्या है कारण

trump and Biden
निधि अविनाश । Oct 31, 2020 5:18PM
काफी हैरानी के बात है कि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प और उनके डेमोक्रेटिक प्रतिद्वंद्वी, जो बाईडेन ने जिंदगी में कभी भी शराब जैसे मादक मादक पेय को हाथ नहीं लगाया है। इस टीटोटलर अभियान से यह तो साबित हो गया है कि कैसे राजनीति में पीने वाली संस्कृति बदल रही है।

अमेरिका में इस वक्त काफी जोर-शोर से चुनाव प्रचार चल रहा है। डेमोक्रेटिक और रिपब्लिक पार्टी के दोनों नेता एक-दूसरे पर काफी निशाना भी साध रहे है। लेकिन 3 नवंबर को होने वाले इस चुनाव से पता चल जाएगा कि अमेरिकी जनता ने इस बार किसको अमेरिका का राषट्रपति चुना है। वहीं आधुनिक इतिहास में यह पहली बार ऐसा हुआ है कि व्हाइट हाउस के लिए पार्टी के दोनों प्रमुख उम्मीदवार यानि की डोनाल्ड ट्रंप और जो बाइडेन टीटोटलर हैं। काफी हैरानी के बात है कि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प और उनके डेमोक्रेटिक प्रतिद्वंद्वी, जो बाईडेन ने जिंदगी में कभी भी शराब जैसे मादक मादक पेय को हाथ नहीं लगाया है। इस टीटोटलर अभियान से यह तो साबित हो गया है कि  कैसे राजनीति में पीने वाली संस्कृति बदल रही है।

इसे भी पढ़ें: क्या चुनाव वाले दिन नाइट पार्टी के आयोजन की तैयारी में जुटे रहेंगे डोनाल्ड ट्रंप?

 

इससे यह तो पता चलता है कि डोनाल्ड ट्रंप और जो बाइडेन में एक चीज की कितनी समानता है। भले ही दोनों नेताओं के मत एक-दूसरें से एक दम परे हो लेकिन जब बात शराब जैसी की आती है तो इन दोनों नेताओं के परिवारों में काफी समानताएं है। जैसे की ट्रम्प के भाई की मृत्यु शराब के कारण हुई थी तो वहीं बाईडेन के सबसे पंसदीदा चाचा की भी मौत ज्यादा शराब पीने के कारण हुई। बता दें कि दोनों ही नेताओं ने शराब से बिल्कुल परे रखा है। चाहे वह राजनीति की दुनिया में हो या न्यूयॉर्क शहर की दुनिया हो दोनों नेताओं को यह तो पता है कि शराब उनको काफी नुकसान में डाल सकती है। बाईडेन के उपर पूरी जीवनी लिखने वाले लेखक इवान ओसनोस ने कहा कि  "ये दो गहन प्रतिस्पर्धी पुरुष हैं जिन्होंने अपने करियर में जल्दी निर्णय लिया कि उन्हें अपना करियर कैसे बनाना है और वह सफलता के मार्ग पर चलने को हमेशा तत्पर रहे है। बता दें कि अमेरिका में 3 नवंबर को राष्ट्रपति चुनाव है। 

अन्य न्यूज़