अमेरिका ने किया WHO से हटने का ऐलान, चीन पर कब्जे का लगाया आरोप

अमेरिका ने किया WHO से हटने का ऐलान, चीन पर कब्जे का लगाया आरोप

आज मैं अपने राष्ट्र के महत्वपूर्ण विश्वविद्यालय अनुसंधान को बेहतर ढंग से सुरक्षित करने के लिए एक घोषणा जारी करूंगा और संभावित विदेशी जोखिमों के रूप में पहचाने जाने वाले चीन से कुछ विदेशी नागरिकों के प्रवेश को निलंबित कर दूंगा। ट्रंप ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में हांगकांग की स्वायत्ता खत्म करने को लेकर चीन को निशाने पर लिया।

वाशिंगटन। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने विश्व स्वास्थ्य संगठन से हटने का ऐलान कर दिया है। ट्रंप ने कहा कि $40 मिलियन प्रति वर्ष का भुगतान करने के बावजूद WHO पर चीन का कुल नियंत्रण है जबकि अमेरिक 450 मिलियन डॉलर प्रति वर्ष का भुगतान कर रहा है। उन्होंने कहा कि WHO सुधार और बदलाव की प्रक्रिया शुरू करने में नाकाम रहा। आपको बता दें कि इस समय कोरोना वायरस से सबसे ज्यादा त्रस्त अमेरिका है।

ट्रंप ने आरोप लगाते हुए कहा कि वर्षों से चीन के सरकार ने हमारे औद्योगिक रहस्यों को चुराने के लिए अनुचित जासूसी की है। आज मैं अपने राष्ट्र के महत्वपूर्ण विश्वविद्यालय अनुसंधान को बेहतर ढंग से सुरक्षित करने के लिए एक घोषणा जारी करूंगा और संभावित विदेशी जोखिमों के रूप में पहचाने जाने वाले चीन से कुछ विदेशी नागरिकों के प्रवेश को निलंबित कर दूंगा। ट्रंप ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में हांगकांग की स्वायत्ता खत्म करने को लेकर चीन को निशाने पर लिया।






Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

अंतर्राष्ट्रीय

झरोखे से...