व्हाइट हाउस ने कहा- पुतिन खुद को अंतरराष्ट्रीय समुदाय से और भी अलग कर रहे हैं

White House
प्रतिरूप फोटो
Google Creative Commons
व्हाइट हाउस में राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद में रणनीतिक संचार के समन्वयक जॉन किर्बी ने इस संबंध में एक सवाल पर संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘मुझे लगता है कि आपने चीन और भारत के नेताओं से उज्बेकिस्तान में जो सुना वह इस बात को दिखाता है कि पुतिन यूक्रेन में जो कर रहे हैं उसे लेकर दूसरे लोगों की समस्याओं को नहीं सुन रहे हैं।’

व्हाइट हाउस ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की यूक्रेन युद्ध पर टिप्पणी के एक दिन बाद शुक्रवार को कहा कि रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन अपने आप को अंतरराष्ट्रीय समुदाय से अलग-थलग कर रहे हैं। गौरतलब है कि मोदी ने समरकंद में शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) के वार्षिक शिखर सम्मेलन के इतर एक द्विपक्षीय बैठक में शुक्रवार को रूसी राष्ट्रपति से बातचीत में यूक्रेन में संघर्ष को जल्द समाप्त करने पर जोर देते हुए कहा कि ‘‘आज का युग युद्ध का नहीं है।’’ इसके जवाब में पुतिन ने मोदी से कहा कि वह यूक्रेन संघर्ष पर भारत की चिंताओं से अवगत हैं और रूस इसे जल्द से जल्द समाप्त करने के लिए हर संभव प्रयास करेगा।

व्हाइट हाउस में राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद में रणनीतिक संचार के समन्वयक जॉन किर्बी ने इस संबंध में एक सवाल पर संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘मुझे लगता है कि आपने चीन और भारत के नेताओं से उज्बेकिस्तान में जो सुना वह इस बात को दिखाता है कि पुतिन यूक्रेन में जो कर रहे हैं उसे लेकर दूसरे लोगों की समस्याओं को नहीं सुन रहे हैं।’’ उनसे एक पत्रकार ने पूछा कि क्या आपको लगता है कि भारत की तरह अन्य देश भी सार्वजनिक रूप से अपना रुख बदलेंगे। इस पर किर्बी ने कहा, ‘‘वह अपने आप को अंतरराष्ट्रीय समुदाय से और अलग-थलग कर रहे हैं। हमें नहीं लगता कि यूक्रेन में रूस जो भी कर रहा है, उसे देखते हुए अभी पहले की तरह उसके साथ व्यापार करने का वक्त है।

Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


अन्य न्यूज़