केजरीवाल के गुजरात से लौटते ही AAP में मची भगदड़, 150 से अधिक नेता बीजेपी में हुए शामिल

150 AAP members
अभिनय आकाश । Apr 05, 2022 6:47PM
बीजेपी गुजरात के महासचिव प्रदीप सिंह वाघेला ने कहा कि दिल्ली के सीएम और पंजाब के सीएम अपने घर नहीं पहुंचे हैं या खाना भी नहीं खाया होगा कि उससे पहले से ही उनकी पार्टी के कई लोग बीजेपी में शामिल हो गए हैं।

आम आदमी पार्टी (आप) के राष्ट्रीय संयोजक और दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल और पंजाब के सीएम भगवंत मान के गुजरात दौरे के एक दिन बाद, पार्टी के लगभग 150 नेता और कार्यकर्ता भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में शामिल हो गए। कांग्रेस को भी झटका लगा क्योंकि उसके कई सदस्य भी भाजपा में शामिल हो गए। बता दें कि अरविंद केजरीवाल और भगवंत मान गुजरात के दो दिवसीय दौरे पर थे। आप संयोजक ने यहां पंजाब के नए नवेले सीएम भगवंत मान के साथ एक रोड शो भी किया। एक स्थानीय मंदिर, गांधी आश्रम का दौरा भी किया और बैठकें कीं। वे रविवार शाम गुजरात से निकले थे। आप नेताओं और कार्यकर्ताओं का भाजपा में पलायन सोमवार को गांधीनगर के कमलम में भगवा पार्टी के कार्यालय में हुआ।

इसे भी पढ़ें: कांग्रेस के साथ बीजेपी की बड़ी मुसीबत बनेगी AAP? इंटरनल सर्वे में दावा- गुजरात में लगभग 58 सीटें मिल सकती है

बीजेपी गुजरात के महासचिव प्रदीप सिंह वाघेला ने कहा कि दिल्ली के सीएम और पंजाब के सीएम अपने घर नहीं पहुंचे हैं या खाना भी नहीं खाया होगा कि उससे पहले से ही उनकी पार्टी के कई लोग बीजेपी में शामिल हो गए हैं। यह स्पष्ट रूप से दर्शाता है कि वे गुजरात के लोगों को बेवकूफ नहीं बना सकते हैं। उनके दौरे का गुजरात के लिए कोई मतलब नहीं है। गुजरात के लोगों का आशीर्वाद भाजपा के साथ है। पंजाब में आप सरकार के सिर्फ पांच दिनों में किसानों पर लाठीचार्ज करवाया। 

इसे भी पढ़ें: अहमद पटेल के बेटे ने दिया कांग्रेस छोड़ने का संकेत, कहा- इंतजार करके थक गया, सभी विकल्प खुले हैं

वाघेला ने नए प्रवेशकों को संबोधित करते हुए कहा, "आज आपने आप और कांग्रेस छोड़ दी। वे कहेंगे कि आप लोग किसी काम के नहीं थे। लेकिन मैं आपको बता दूं कि आप गुजरात के विकास के लिए बहुत उपयोगी हैं और आपका भाजपा में स्वागत है। लंबे समय से गुजरात में भाजपा की सरकार रही है क्योंकि लोगों को हम पर और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व पर भरोसा है। 

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़