ऐतिहासिक मलाणा गांव में बीती रात अचानक आग लगने से 16 मकानो के जल जाने से अग्निकांड में 150 लोग प्रभावित

ऐतिहासिक मलाणा गांव में बीती रात अचानक आग लगने से 16  मकानो के जल जाने से अग्निकांड में 150 लोग प्रभावित

करीब आठ घंटे बाद आग बुझाई जा सकी।गांव में लकड़ी के प्राचीन काष्ठकुणी शैली के मकान होने के कारण आग तेजी से फैली। लोगों को जब आग का पता चला तो गांव में अफरा-तफरी का माहौल बन गया। लोग तुरंत अपना जरूरी सामान, पैसे व गहने आदि लेकर घरों से बाहर निकल आए और आग को बुझाने में जुट गए। आग सुबह तक लगी रही।

कुल्लू।   कुल्लू ज़िला के ऐतिहासिक मलाणा गांव में बीती रात अचानक आग लगने से 16 रिहायशी मकानो के जल जाने की सूचना है।किसी के हताहत होने की कोई सूचना नहीं है। प्रशासन आधी रात को ही मौके पर पहुंच गया था। एसडीएम कुल्‍लू विकास शुक्‍ला ने बताया अग्निकांड में 16 मकान जल गए हैं। उपायुक्त कुल्लू आशुतोष गर्ग भी सुबह घटनास्‍थल पर पहुुंचे। मलाणा पंचायत के प्रधान राजू राम ने बताया सुबह तक आग भड़की रही, प्रशासन व ग्रामीणों के सहयोग से कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया गया। उपायुक्त ने बताया अग्निकांड में नौ करोड़ से ज्‍यादा का नुकसान हुआ है। इस अग्निकांड में 150 लोग प्रभावित हुए हैं। 

इसे भी पढ़ें: भूपेश बघेल की जनसभा में कुर्सियां भी आगंतुकों का इंतजार करती रही : बिंदल

एस डी एम कुल्लू विकास शुक्ला ने जानकारी दी कि इस घटना में 16  मकान जलकर राख हो गए हैं और किसी भी प्रकार के जानी नुकसान की सूचना नहीं है। पीड़ित परिवारों को राशन, टेंट व कम्बल इत्यादि की व्यवस्था की जा रही है।एसडीएम विकास शुक्ला रात दो बजे 70 पुलिस जवानों और दमकल टीम के साथ मौके पर पहुंच गए थे। मलाणा गांव तक सड़क नहीं है, इस कारण दमकल की गाड़ी नहीं पहुंच पाई। नालेे से 150 मीटर पाइपें डालकर मोटर के सहारे गांव तक पानी पहुंचाया और करीब आठ घंटे बाद आग बुझाई जा सकी।गांव में लकड़ी के प्राचीन काष्ठकुणी शैली के मकान होने के कारण आग तेजी से फैली। लोगों को जब आग का पता चला तो गांव में अफरा-तफरी का माहौल बन गया। लोग तुरंत अपना जरूरी सामान, पैसे व गहने आदि लेकर घरों से बाहर निकल आए और आग को बुझाने में जुट गए। आग सुबह तक लगी रही। 

उधर, मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने भी इस अग्निकांड पर दुख व्यक्त किया है।मुख्यमंत्री ने ट्वीट कर लिखा कि अग्निकांड में करोड़ों का नुकसान हुआ है व 150 लोग प्रभावित हुए हैं। स्‍थानीय प्रशासन मौके पर जुटा है व निर्देश दिए हैं कि राहत व बचाव कार्य में कोई कसर न रहे।

गृहमंत्री अमित शाह ने हिमाचल प्रदेश के मलाणा गांव में हुए अग्निकांड पर दुख व्यक्त किया है। उन्होंने ट्वीट किया कि हिमाचल प्रदेश के मलाणा गांव में आग लगने से हुए नुकसान से अत्यंत दुखी हूं। इस हादसे में जिन गांव वालों के घरों को क्षति पहुंची है, मैं उन सभी के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त करता हूँ। प्रदेश सरकार व प्रशासन पूरी तन्मयता के साथ बचाव कार्य में लगी है।

केन्द्रीय सूचना व प्रसारण मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर ने दुख व्यक्त किया है देवभूमि हिमाचल के कुल्लू में भीषण अग्निकांड की घटना कष्टदायक है।मेरी संवेदनाएं एवं सहानुभूति मलाणा गाँव में लगी आग से प्रभावित हुए सभी पीड़ितों के साथ है।प्रदेश सरकार व जिला प्रशासन पूरी तत्परता से स्थिति को ध्यान में रखते हुए राहत और बचाव कार्यों में लगे हुए हैं।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।