Amit Shah के दौरे से पहले पूरे Jammu-Kashmir में तगड़े सुरक्षा प्रबंध, जगह-जगह तलाशी, दो आतंकी भी ढेर

amit shah
ANI
जहां तक मुठभेड़ में आतंकवादियों के मारे जाने की बात है तो आपको बता दें कि जम्मू-कश्मीर के बारामूला जिले में शुक्रवार को सुरक्षा बलों और आतंकवादियों के बीच हुई मुठभेड़ में जैश-ए-मोहम्मद के दो आतंकवादी मारे गए।

गृह मंत्री अमित शाह के जम्मू-कश्मीर दौरे से पहले पूरे केंद्र शासित प्रदेश में सुरक्षा के कड़े उपाय किये जा रहे हैं और आतंकी मंसूबों को नाकाम किया जा रहा है। शुक्रवार को दो आतंकवादी मुठभेड़ में मारे गये, इससे पहले गुरुवार को उधमपुर में दो विस्फोटों के बाद हाई अलर्ट घोषित कर चप्पे चप्पे की छानबीन की जा रही है। वहीं आम जन भी पाकिस्तानी आतंकवादियों द्वारा डर का माहौल बनाये जाने के खिलाफ सड़कों पर उतरने लगे हैं।

जहां तक मुठभेड़ में आतंकवादियों के मारे जाने की बात है तो आपको बता दें कि जम्मू-कश्मीर के बारामूला जिले में शुक्रवार को सुरक्षा बलों और आतंकवादियों के बीच हुई मुठभेड़ में जैश-ए-मोहम्मद के दो आतंकवादी मारे गए। पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि शुक्रवार तड़के शोपियां और बारामूला जिलों में सुरक्षा बलों और आतंकवादियों के बीच मुठभेड़ शुरू हो गई थी। अधिकारी ने बताया कि सुरक्षा बलों ने दक्षिण कश्मीर के शोपियां के चित्रगाम इलाके और उत्तरी कश्मीर में बारामूला के येदिपुरा इलाके में घेराबंदी कर तलाश अभियान शुरू किया था जिसके बाद मुठभेड़ शुरू हुई। उन्होंने बताया कि बारामूला में मुठभेड़ के दौरान दो आतंकवादी मारे गए। इस बारे में कश्मीर के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (एडीजीपी) विजय कुमार ने ट्वीट किया, ''एक और आतंकवादी मारा गया (कुल दो मारे जा चुके हैं। ये दोनों आतंकवादी जैश से नाता रखते थे। तलाश अभियान अब भी जारी है..।’’

इसे भी पढ़ें: Prabhasakshi NewsRoom: Amit Shah के Jammu-Kashmir दौरे से पहले दो धमाके, हाई अलर्ट घोषित

दूसरी ओर, जम्मू-कश्मीर के उधमपुर जिले में गुरुवार तड़के संदिग्ध आतंकवादियों द्वारा एक खड़ी बस में विस्फोट किए जाने के बाद सुरक्षा बलों ने खोजी कुत्तों के साथ अंतरराज्यीय बस टर्मिनल की गहन तलाशी ली। पुलिस ने बताया कि विस्फोट के बाद जम्मू क्षेत्र में ‘हाई अलर्ट’ जारी कर दिया गया है। कटरा और रामनगर कस्बों में लाउडस्पीकर लगे पुलिस वाहनों से घोषणा की जा रही है और तीर्थयात्रियों, स्थानीय निवासियों तथा यात्रियों को संदिग्ध वस्तुओं और लोगों पर नजर रखने के लिए कहा जा रहा है। अधिकारियों ने बताया कि जम्मू-कश्मीर पुलिस के विशेष अभियान समूह ने खोजी कुत्तों के साथ जम्मू शहर के बस स्टैंड इलाके में गहन तलाशी अभियान चलाया। उन्होंने बताया कि बस स्टैंड पर सुरक्षा कड़ी कर दी गई है और शहर में प्रवेश करने वाले वाहनों की तलाशी ली जा रही है।

उधर, त्रिकुटा पहाड़ियों में स्थित माता वैष्णो देवी गुफा मंदिर के आधार शिविर कटरा कस्बे में नवरात्रि के दौरान सुचारू यात्रा सुनिश्चित करने के लिए सुरक्षा बढ़ा दी गई है। उल्लेखनीय है कि देश के विभिन्न हिस्सों से प्रतिदिन हजारों तीर्थयात्री इस गुफा मंदिर में दर्शन करने आते हैं। अधिकारियों ने बताया कि कठुआ, सांबा और रियासी जिलों में भी इसी तरह की तलाशी ली गई। उन्होंने कहा कि राजौरी में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह चार अक्टूबर को एक रैली को संबोधित करने वाले हैं और वहां कार्यक्रम स्थल एवं उसके आसपास उच्च स्तरीय सुरक्षा व्यवस्था की गई है।

दूसरी ओर, दोहरे बम धमाकों के बाद जम्मू और उधमपुर जिलों में लोगों ने पाकिस्तान के खिलाफ प्रदर्शन किया तथा राष्ट्रीय राजमार्ग एवं अन्य सड़कें जाम कर दीं। उधमपुर में गुरुवार को तीन स्थानों पर लोग सड़कों पर आ गये और उन्होंने पाकिस्तान के खिलाफ प्रदर्शन किया। उन्होंने पाकिस्तान का पुतला फूंका और पाकिस्तान विरोधी नारे लगाये। प्रदर्शनकारियों ने डर का माहौल पैदा करने के आतंकवादियों के नापाक मंसूबे को विफल करने करने के लिए शहर और उसके आसपास सुरक्षा बढ़ाने की मांग की। जम्मू शहर में शिवसेना, बजरंग दल और डोगरा फ्रंट ने पाकिस्तान के खिलाफ प्रदर्शन किया और विस्फोट करने वालों को बेनकाब करने एवं उनका सफाया करने की मांग की। प्रदर्शनकारियों ने पाकिस्तान-विरोधी नारे लगाये और रैलियां निकालीं।

अन्य न्यूज़