महाराष्ट्र में कोरोना वायरस संक्रमण के 22,122 नए मामले, 361 और रोगियों की मौत

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  मई 25, 2021   09:09
महाराष्ट्र में कोरोना वायरस संक्रमण के 22,122 नए मामले, 361 और रोगियों की मौत

महाराष्ट्र में सोमवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 22,122 नए मामले सामने आने के बाद संक्रमितों की कुल संख्या 56,02,019 हो गई। इसके अलावा 361 और रोगियों की मौत के साथ ही मृतकों की तादाद89,212 तक पहुंच गई है।

मुंबई। महाराष्ट्र में सोमवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 22,122 नए मामले सामने आने के बाद संक्रमितों की कुल संख्या 56,02,019 हो गई। इसके अलावा 361 और रोगियों की मौत के साथ ही मृतकों की तादाद 89,212 तक पहुंच गई है। स्वास्थ्य विभाग ने यह जानकारी दी। संक्रमण से उबरने वालों की संख्या नए रोगियों की तुलना में अधिक रही। स्वास्थ्य विभाग के एक बयान के अनुसार दिनभर में 42,320 लोगों को छुट्टी दी गई, जिसके साथ ही ठीक हो चुके लोगों की कुल संख्या बढ़कर 51,82,592 हो गई।

इसे भी पढ़ें: महाराष्ट्र के उन जिलों में पाबंदियों में ढील दी जा सकती है, जहां कम मामले सामने आ रहे हैं: मंत्री

विभाग ने कहा कि राज्य में कोविड-19 से उबरने की दर 92.51 प्रतिशत जबकि मृत्युदर 1.59 फीसदी है। महाराष्ट्र में उपचाराधीन रोगियों की संख्या 3,27,580 है। विभाग के अनुसार राज्य में बीते 24 घंटे के दौरान 2,63,774 नमूनों की जांच की गई। अब तक3,32,77,290 नमूनों की जांच की जा चुकी है। मुंबई में कोरोना वायरस संक्रमण के1,049नए मामले सामने आने के बाद संक्रमितों की कुल संख्या 6,97,959 हो गई है जबकि 48 और रोगियों की मौत के साथ ही मृतकों की तादाद 14,613 तक पहुंच गई है। वहीं पुणे में संक्रमण के 2020 नए मामले सामने आए जिससे यहां संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 997544 हो गई।

इसे भी पढ़ें: झारखंड: पलामू के खरगड़ा पंचायत में 15 दिनों में कोविड से 15 लोगों के मरने की आशंका

वहीं जिले में 94 और मरीजों की मौत से मरने वालों का आंकड़ा बढ़कर 16221 हो गया है। इस बीच केंद्र के एक निर्देश के बाद मुंबई के नगर निकाय ने गर्भवती व स्तनपान कराने वाली महिलाओं को बिना किसी पूर्व पंजीकरण के कोविड-19 टीकाकरण जाकर अपना टीकाकरण कराने की मंजूरी दे दी। अधिकारियों ने सोमवार को यह जानकारी दी।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।