दुष्कर्म का फरार आरोपित गिरफ्तार, पुलिस ने किया था इनाम घोषित

दुष्कर्म का फरार आरोपित गिरफ्तार, पुलिस ने किया था इनाम घोषित

जिसकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस अधीक्षक पन्ना मयंक अवस्थी द्वारा रूपये 5000 का नगद इनाम घोषित किया था। आरोपित की गिरफ्तारी के लिए थाना प्रभारी गुनौर को निर्देशित किया गया था। जिस पर पुलिस ने डेढ़ वर्षो से फरार व इनामी अपराधी ईश्वर दीन को रविवार को को गुनौर थाना प्रभारी ए.पी. सिंह बघेल द्वारा थाना स्टाफ के सहयोग से गिरफ्तार किया।

पन्‍ना। मध्य प्रदेश के पन्ना जिले में  एक नाबालिक लड़की को बहला फुसला कर अपहरण कर दुष्कर्म करने का आरोपित लगभग डेढ़ वर्ष से फरार चल रहा था। जिसे सोमवार को पुलिस ने गिरफ्तार कर सोमवार को न्यायालय में पेश किया, जहां से आरोपी को जेल भेज दिया गया है। पन्ना जिले के गुनौर थाना क्षेत्र अंतर्गत एक गांव की नाबालिक लड़की को 17 अप्रैल 2019 को आरोपित ईश्वर दीन प्रजापति पुत्र सुदामा प्रजापति (22) साल निवासी ग्राम लुहरगांव थाना गुन्नौर का शादी करने का झांसा देकर बहला-फुसलाकर दिल्ली भगा ले गया था, जहां पर पीड़िता के साथ मारपीट कर दुष्कर्म करता रहा। वही किसी तरह पीड़िता लड़की आरोपित के चंगुल से छूट कर अपने घर वालों को सूचना दी तथा घरवालों के पहुंचने पर उनके साथ 3 मई 2019 को अपने घर पहुंची।

 

इसे भी पढ़ें: तेज रफ्तार ट्रैक्टर चालक ने मासूम को रौंदा, बच्चे की मौके पर ही मौत

वही रिपोर्ट पर आरोपित ईश्वर दीन प्रजापति के विरुद्ध थाना गुनौर  धारा 363 आईपीसी का अपराध पंजीबद्ध किया जाकर विवेचना की गई। युक्त प्रकरण में अपराध धारा 366, 376 आईपीसी एवं 5/6 पॉक्सो एक्ट बढ़ाई गई।आरोपित ईश्वर दीन प्रजापति घटना से लगातार फरार हो गया था। जिसकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस अधीक्षक पन्ना मयंक अवस्थी द्वारा रूपये 5000 का नगद इनाम घोषित किया था। आरोपित की गिरफ्तारी के लिए थाना प्रभारी गुनौर को निर्देशित किया गया था।  जिस पर पुलिस ने डेढ़ वर्षो से फरार व इनामी अपराधी ईश्वर दीन को रविवार को  को गुनौर थाना प्रभारी ए.पी. सिंह बघेल द्वारा थाना स्टाफ के सहयोग से गिरफ्तार किया। 





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।