मिजोरम में अफ्रीकी स्वाइन फीवर का कहर, तीन महीनों में 9,000 से ज्यादा सुअरों की मौत

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जुलाई 5, 2021   10:08
मिजोरम में अफ्रीकी स्वाइन फीवर का कहर,  तीन महीनों में 9,000 से ज्यादा सुअरों की मौत

अफ्रीकन स्वाइन फीवर से मिजोरम में पशुधन का काफी नुकसान हुआ है।विभाग की ओर से रविवार को जारी आंकड़े में बताया गया कि इस बीमारी से फिलहाल 10 जिलों के कम से कम 152 गांव या स्थानीय इलाके प्रभावित हैं और अब तक 36.38 करोड़ रुपये का नुकसान हो चुका है।

आइजोल। मिजोरम में अफ्रीकन स्वाइन फीवर (एएसएफ) से पशुधन का काफी नुकसान हो रहा है। राज्य के 11 जिलों में से 10 जिले इससे प्रभावित हैं और करीब तीन महीनों में 9,000 से ज्यादा सुअरों की मौत हुई। राज्य पशुपालन एवं पशु चिकित्सा विज्ञान विभाग से यह जानकारी मिली है।

इसे भी पढ़ें: श्रीनगर में हुई गुपकर नेताओं की बैठक, पीएम मोदी की सर्वदलीय बैठक के बाद पहली मुलाकात

विभाग की ओर से रविवार को जारी आंकड़े में बताया गया कि इस बीमारी से फिलहाल 10 जिलों के कम से कम 152 गांव या स्थानीय इलाके प्रभावित हैं और अब तक 36.38 करोड़ रुपये का नुकसान हो चुका है। एएसएफ प्रभावित इलाकों से बाहर भी 699 सुअरों की ‘असमान्य मौत’ हुई है। आंकड़ों के अनुसार इस बीमारी के प्रसार को रोकने के लिए अब तक 1,078 सुअरों को मारा भी गया है। एएसएफ से मौत का पहला मामला 21 मार्च को दक्षिणी मिजोरम के लुंगलेई ज़िले के लुंगसेन गांव से सामने आया था।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।