विवादित बयान के बाद सत्यपाल मलिक की सफाई, कहा- भ्रष्टाचार देखकर खून खौलता है

By प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क | Publish Date: Jul 22 2019 7:36PM
विवादित बयान के बाद सत्यपाल मलिक की सफाई, कहा- भ्रष्टाचार देखकर खून खौलता है
Image Source: Google

करगिल और लेह का दौरा कर रहे मलिक ने कहा, ‘‘आज मैं राज्य का राज्यपाल हूं और कल हो सकता है मैं साधारण नागरिक रहूंगा। मेरा नजरिया नहीं बदलेगा।

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने अपनी विवादित टिप्पणी को लेकर सोमवार को कहा कि उन्हें ऐसे बयान देने से परहेज करना चाहिए था, लेकिन आक्रोश के कारण उन्होंने ऐसा कहा। एक दिन पहले, उन्होंने कहा था कि आतंकवादियों को मासूम लोगों को मारने की बजाए भ्रष्टाचारियों को निशाना बनाना चाहिए। मलिक ने कहा कि कई नेता और नौकरशाह भ्रष्टाचार में आकंठ डूबे हैं और उन्होंने जांच का आदेश दिया है जिसमें दो या तीन पूर्व मंत्रियों की भूमिका की जांच की जा रही है। मलिक ने लद्दाख क्षेत्र के नुब्रा से फोन पर पीटीआई को कहा कि राज्य में भ्रष्टाचार इतना है कि उनका खून खौलता है। उन्होंने यह भी कहा कि एक संवैधानिक पद पर रहते हुए उन्हें ऐसी टिप्पणियां नहीं करनी चाहिए थी लेकिन जो कहा था, वह इस मुद्दे को लेकर उनकी ऐसी ही भावना है। वह जब राज्यपाल नहीं रहेंगे तब भी यह दोहराएंगे। 

 
उन्होंने कहा, ‘‘राज्यपाल के तौर पर मुझे ऐसे बयानों से परहेज करना चाहिए लेकिन यह गुस्से और हताशा में कहा था। राज्य में इतना भ्रष्टाचार देखकर मेरा खून खौलता है...जहां अमीर और अमीर तथा गरीब और गरीब होते जा रहे हैं।’’ करगिल और लेह का दौरा कर रहे मलिक ने कहा, ‘‘आज मैं राज्य का राज्यपाल हूं और कल हो सकता है मैं साधारण नागरिक रहूंगा। मेरा नजरिया नहीं बदलेगा। इस राज्य में कदाचार के बारे में निजी तौर पर मैं अपनी राय व्यक्त कर सकता हूं।’’ राज्यपाल ने कहा कि अपराध शाखा और भ्रष्टाचार रोधी शाखा दो या तीन पूर्व मंत्रियों की जांच कर रही है। उन्होंने कहा, ‘‘अगर वे दोषी पाए गए तो मैं सुनिश्चित करूंगा कि वे बख्शे नहीं जाएं। मैं यह नहीं देखूंगा कि वे किस पार्टी के हैं।’’
मलिक ने कहा, ‘‘राज्य के कानून के मुताबिक मेरे पास भले पर्याप्त अधिकार नहीं हो लेकिन मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से विशेष अधिकार हासिल करने से नहीं हिचकिचाउंगा। राज्य को भ्रष्टाचार मुक्त बनाने के लिए मैं किसी भी हद तक जाउंगा।’’ मलिक ने रविवार को लद्दाख क्षेत्र के करगिल में एक कार्यक्रम में दिए गए अपने भाषण से विवाद खड़ा कर दिया था। मलिक ने सवाल किया था, “जिन लड़कों ने बंदूकें उठाई हैं वे अपने ही लोगों को मार रहे हैं, वे निजी सुरक्षा अधिकारियों, विशेष पुलिस अधिकारियों को मार रहे हैं। उन्हें क्यों मार रहे हो? उनको मारो जिन्होंने कश्मीर की संपदा को लूटा है। क्या तुमने इनमें से किसी को मारा है?’’ रविवार को मलिक के बयान पर नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता उमर अब्दुल्ला ने तीखी प्रतिक्रिया दी थी। 



 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप   


Related Story

Related Video