मोदी को देश का पिता कहने पर ट्रंप पर भड़के ओवैसी, बोले- अमेरिकी राष्ट्रपति जाहिल हैं

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  सितंबर 26, 2019   08:48
मोदी को देश का पिता कहने पर ट्रंप पर भड़के ओवैसी, बोले- अमेरिकी राष्ट्रपति जाहिल हैं

एआईएमआईएम के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने आरोप लगाया कि अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप ने मोदी को देश का पिता कहा है। वह जाहिल हैं। उन्हें कुछ नहीं पता।

हैदराबाद। एआईएमआईएम के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को ‘भारत का पिता’ (फादर ऑफ इंडिया)कहने पर बुधवार को डोनाल्ड ट्रंप पर निशाना साधा और आरोप लगाया कि अमेरिकी राष्ट्रपति को देश के महान अतीत और राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के बारे में जानकारी नहीं है। ओवैसी ने मोदी की अमेरिका यात्रा और ह्यूस्टन में उनके ट्रंप के साथ मंच साझा करने के संबंध में पूछे गये सवालों पर यहां संवाददाताओं से कहा कि यहां तक कि बाद में जवाहरलाल नेहरू और सरदार वल्लभभाई पटेल जैसे भारतीय राजनीति के दिग्गजों को भी देश का पिता नहीं कहा गया।

इसे भी पढ़ें: ''एक भाषा एक देश'' का विरोध करने वाले क्षेत्रीय हितों से ऊपर उठकर नहीं सोचते

उन्होंने आरोप लगाया कि अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप ने मोदी को देश का पिता कहा है। वह जाहिल हैं। उन्हें कुछ नहीं पता। उन्हें महात्मा गांधी के बारे में कुछ नहीं पता। उन्हें भारत के महान अतीत के बारे में, हमारे स्वतंत्रता संघर्ष के बारे में कुछ नहीं पता और वह उन्हें (मोदी को) देश का पिता कहते हैं। ओवैसी ने कहा कि मोदी और महात्मा गांधी की तुलना नहीं की जा सकती। गांधीजी ने राष्ट्रपिता की उपाधि अर्जित की थी। हालांकि उन्होंने कहा कि वह मोदी की तुलना एल्विस प्रेस्ली के साथ करने पर ट्रंप से सहमत हैं। ओवैसी ने कहा कि एल्विस प्रेस्ली लोगों को अपने गानों से मंत्रमुग्ध करते थे। मोदी भी जब भाषण देते हैं तो ऐसा ही करते हैं। लेकिन मैं यह कहकर अपने प्रधानमंत्री को कमतर नहीं आंक सकता कि वह एल्विस प्रेल्ली की तरह हैं।

इसे भी पढ़ें: मोदी को गाय अर्थव्यवस्था की चिंता है, देश की अर्थव्यवस्था की नहीं: ओवैसी

ट्रंप ने मंगलवार को मोदी की प्रशंसा करते हुए कहा था, ‘‘मुझे याद है कि भारत पहले काफी अस्थिर था। वहां काफी मतभेद और अंदरुनी झगड़े थे। लेकिन उन्होंने (मोदी ने) सबको एकजुट किया, जैसे कोई पिता करता है। शायद वह फादर ऑफ इंडिया (भारत के पिता) हैं।’’





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।