सियासी जमीन पर उतरे 'आकाश', मायावती ने दी नेशनल कॉर्डिनेटर की जिम्मेदारी

By अभिनय आकाश | Publish Date: Jun 23 2019 2:15PM
सियासी जमीन पर उतरे 'आकाश', मायावती ने दी नेशनल कॉर्डिनेटर की जिम्मेदारी
Image Source: Google

आकाश आनंद मायावती के भाई आनंद कुमार के बेटे हैं। लंदन से एमबीए करने वाले आकाश की बसपा की राजनीति में अचानक एंट्री नहीं हुई है। मायावती ने 2017 में उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव हारने के बाद सहारनपुर की रैली में सुनियोजित तरीके से उनको लॉन्च किया था।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की 13 विधानसभा सीटों पर होने वाले उपचुनाव के लिए अभी से राजनीतिक दल ने अपनी तैयारी शुरू कर दी है। लोकसभा चुनाव 2019 में 10 लोकसभा सीट अपने नाम करने वाली बहुजन समाज पार्टी की बैठक हुई। बसपा सुप्रीमो मायावती के नेतृत्व में हुई इस बैठक में संगठनिक स्तर पर कई अहम बदलाव किए गए हैं। बसपा सुप्रीमो मायावती के भाई आनंद कुमार दोबारा बसपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बनाए गए। वहीं दानिश अली को लोकसभा में बसपा का नेता बनाया गया है। मायावती के भतीजे आकाश आनंद को राष्ट्रीय समन्वयक की जिम्मेदारी दी गई है। 

इसे भी पढ़ें: ‘एक राष्ट्र, एक चुनाव’ पर बोलीं मायावती, राष्ट्रीय समस्याओं से ध्यान बांटने का प्रयास

आकाश आनंद मायावती के भाई आनंद कुमार के बेटे हैं। लंदन से एमबीए करने वाले आकाश की बसपा की राजनीति में अचानक एंट्री नहीं हुई है। मायावती ने 2017 में उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव हारने के बाद सहारनपुर की रैली में सुनियोजित तरीके से उनको लॉन्च किया था। 

इसे भी पढ़ें: मायावती का आरोप, लोकसभा चुनाव के बाद दलितों और अल्पसंख्यकों पर बढ़े हमले



यूपी में 13 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव प्रस्तावित हैं। इन 13 में से 11 सीटें बीजेपी के पास थीं। गंगोह, इगलास, रामपुर, टूंडला, मीरापुर, गोविंदनगर, कैंट, जैदपुर, मानिकपुर, बलहा, प्रतापगढ़, जलालपुर और हमीरपुर सीटों के लिए चुनाव होना हैं। हमीरपुर सीट से बीजेपी विधायक अशोक सिंह चंदेल को कोर्ट ने हत्या के मामले में उम्रकैद की सजा सुनाई, जिसके बाद उनकी सदस्यता खत्म कर दी गई थी। 

रहना है हर खबर से अपडेट तो तुरंत डाउनलोड करें प्रभासाक्षी एंड्रॉयड ऐप