अमित शाह बोले- अंग्रेजों की 'डंडा मार' पुलिस का समय समाप्त, अब टेक्नोलॉजी और तर्कपूर्ण पुलिसिंग जरूरी

Amit Shah
Twitter
अंकित सिंह । Apr 22, 2022 3:56PM
केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि ब्रिटिश काल की 'डंडा आधारित' पुलिसिंग का समय समाप्त हो गया है। अब, यह जरूरी है कि पुलिसिंग ज्ञान, साक्ष्य और तर्क के आधार पर की जाए। हमें पुलिसिंग का विज्ञान बदलना होगा।

केंद्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री अमित शाह आज मध्य प्रदेश के दौरे पर हैं। इस दौरान उन्होंने 'वन समितियों का सम्मेलन' में हितग्राहियों को तेंदूपत्ता के लाभांश का वितरण किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि पहली बार देश में कोई राज्य सरकार जंगलों का मालिक जनजाति भाइयों को बनाने का काम कर रही है। पहली बार जंगल से जो भी कमाई होती है। इसका 20 प्रतिशत हिस्सा वन समिति के हाथ में सौंपकर आपको इसका सीधा मालिक बनाने का काम किया हैI उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश में 21 प्रतिशत अनुसूचित जनजाति की आबादी रहती है। जब तक जनजाती भाइयों-बहनों का कल्याण नहीं होता, प्रदेश का कल्याण नहीं हो सकताI

शाह ने कहा कि आज एक ही बार में 827 वन ग्रामों को राजस्व ग्रामों को परिवर्तन किया है। ये आपके जीवन में बहुत बड़ा परिवर्तन लाने का फैसला है। राज्य में हमारा भी हिस्सा है इस अधिकार के साथ आज यहां से जा रहे हैंI शाह ने कहा कि इस देश में कोई व्यक्ति बिन घर के न रह जाए, इसी वजह से 2022 के अंत से पहले हर व्यक्ति को प्रधानमंत्री ने घर देने का संकल्प किया है। हर घर में बिजली पहुंचाने का काम समाप्त हो गया है। हर घर में शौचालय बनाने का काम समाप्त हो गया है। एक अन्य कार्यक्रम में शाह ने कहा कि कश्मीर मुद्दा, वामपंथी उग्रवाद और नशीले पदार्थ और पूर्वोत्तर में सशस्त्र समूह जैसी समस्याएं थीं। वे हमारी आंतरिक सुरक्षा के लिए खतरा थे। मोदी सरकार ने इन सभी मुद्दों को वैज्ञानिक रूप से समाधान किया और जरूरी कदम उठाए। 

इसे भी पढ़ें: जहांगीरपुरी पहुंचा कांग्रेस का प्रतिनिधिमंडल, पुलिस ने रोका, अजय माकन बोले- गरीब के पेट पर लात मारी गई है

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि ब्रिटिश काल की 'डंडा आधारित' पुलिसिंग का समय समाप्त हो गया है। अब, यह जरूरी है कि पुलिसिंग ज्ञान, साक्ष्य और तर्क के आधार पर की जाए। हमें पुलिसिंग का विज्ञान बदलना होगा। यह जरूरी है कि पुलिस अपराधियों से आगे हो, उन्हें तकनीक की जानकारी हो। जब तक प्रौद्योगिकी का ज्ञान कांस्टेबल स्तर तक नहीं पहुंच जाता, हम आधुनिक समय के अपराधियों से निपटने में सक्षम नहीं होंगे। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने आज सीएपीटी भोपाल में 48वें अखिल भारतीय पुलिस विज्ञान कांग्रेस में फिक्की टेक एक्सपो का उद्घाटन भी किया।

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़