मध्यप्रदेश में अब तक लगभग 1.75 करोड़ लोगों को लगाये गये कोरोना रोधी टीके : चौहान

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  जून 28, 2021   14:50
मध्यप्रदेश में अब तक लगभग 1.75 करोड़ लोगों को लगाये गये कोरोना रोधी टीके : चौहान

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सोमवार को कहा कि अब तक प्रदेश की लगभग 1.75 करोड़ आबादी को कोविड-19 रोधी टीका लगाकर उन्हें सुरक्षा कवच प्रदान किया जा चुका है।

भोपाल। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सोमवार को कहा कि अब तक प्रदेश की लगभग 1.75 करोड़ आबादी को कोविड-19 रोधी टीका लगाकर उन्हें सुरक्षा कवच प्रदान किया जा चुका है। मध्य प्रदेश जनसंपर्क विभाग के एक अधिकारी ने चौहान के हवाले से कहा, ‘‘अब तक प्रदेश की लगभग पौने दो करोड़ आबादी को टीका लगाया जा चुका है। इनमें से स्वास्थ्य कर्मचारियों और अग्रिम मोर्चे के 10.24 लाख कर्मचारियों को टीके की पहली खुराक और 67,030 को दूसरी खुराक मिल चुकी है। इसी प्रकार 18 से 44 वर्ष के 83.30 लाख लोगों को पहली खुराक और 13.95 लाख को दूसरी खुराक मिल चुकी है।

इसे भी पढ़ें: PM मोदी पर ओवैसी का हमला, कहा- आपकी कश्मीर पॉलिसी में आप नाकाम साबित हुए

वहीं 45 वर्ष से अधिक आयु के 80.90 लाख लोगों को पहली खुराक और 15.44 लाख लोगों को टीके की दूसरी खुराक मिल चुकी है।’’ चौहान ने बताया कि प्रदेश में टीकाकरण का कार्य निरन्तर जारी रहेगा। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की प्रेरणा और सहयोग सेटीकाकरण में मध्यप्रदेश देश में अग्रणी राज्य बना है।

इसे भी पढ़ें: सुप्रीम कोर्ट ने तरुण तेजपाल के खिलाफ यौन उत्पीड़न में सुनाया अपना आखिरी फैसला

देश में एक साथ 21 जून को 86 लाख से अधिक लोगों ने टीके लगवाए। इसी दिन मध्यप्रदेश में 16 लाख से अधिक लोगों को टीके लगाए गये। अन्य राज्यों की अपेक्षा मध्यप्रदेश की टीकाकरण में लगभग 20 प्रतिशत भागीदारी रही और यह प्रदेशवासियों के दृढ़संकल्प और कर्मचारियों की कार्य-कुशलता का नतीजा है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।