पुलवामा हमले में जैश के साथ पाक शामिल, सेना बोली- घाटी से हमने जैश का नाम मिटाया

पुलवामा हमले में जैश के साथ पाक शामिल, सेना बोली- घाटी से हमने जैश का नाम मिटाया

सोमवार को पुलवामा में आतंकियों के साथ हुई मुठभेड़ में सेना के 5 जवान शहीद हो गए। जिसके बाद मंगलवार को प्रेस वार्ता करते हुए अधिकारियों ने बताया कि हम जैश-ए-मोहम्मद के शीर्ष नेतृत्व को तलाश कर रहे हैं।

जम्मू। पुलवामा आतंकवादी हमले को लेकर भारतीय सेना, सीआरपीएफ एवं जम्मू कश्मीर पुलिस ने साझा प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए बताया कि हमले का मास्टरमाइंड कामरान और गाजी दोनों मुठभेड़ में ढेर हो गए। इसी के साथ सेना ने कश्मीरी मांओं से अपील की कि अपने बेटों को समझाएं और घर वापस बुलाएं।

इसे भी पढ़ें: पुलवामा से भी बड़ा गुजरात में हो सकता है आतंकी हमला, IB ने जारी किया अलर्ट

इसी के साथ सेना ने दावा किया कि कश्मीर से आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के पूरे नेतृत्व को खत्म कर दिया गया है। सेना के वरिष्ठ अधिकारी लेफ्टिनेंट जनरल कंवल जीत सिंह ढिल्लन ने कहा कि पुलवामा में हुए आत्मघाती आतंकी हमले के पीछे जैश-ए-मोहम्मद और पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई का हाथ था।

बता दें कि सोमवार को पुलवामा में आतंकियों के साथ हुई मुठभेड़ में सेना के 5 जवान शहीद हो गए। जिसके बाद मंगलवार को प्रेस वार्ता करते हुए अधिकारियों ने बताया कि हम जैश-ए-मोहम्मद के शीर्ष नेतृत्व को तलाश कर रहे हैं। हालांकि हमें यह बताते हुए खुशी हो रही है कि हमने घाटी से जैश के नेतृत्व का सफाया कर दिया है। 

इसे भी पढ़ें: सैन्य सम्मान के साथ छावनी से निकली शहीद अजय की अंतिम यात्रा

इसी के साथ सेना अधिकारियों ने सख्ती के साथ पाकिस्तान का जिक्र करते हुए कहा कि जैश-ए-मोहम्मद पाकिस्तानी सेना का ही बच्चा है और पुलवामा में हुए आतंकवादी हमले में 100 फीसदी पाकिस्तानी सेना का हाथ है। इसमें हमें किसी भी बात का शक नहीं है।





नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

Prabhasakshi logoखबरें और भी हैं...

राष्ट्रीय

झरोखे से...