झूठ बोलकर जनता को भ्रमित करने की राजनीति ना करें मोदी: गहलोत

  •  प्रभासाक्षी न्यूज नेटवर्क
  •  फरवरी 27, 2019   09:33
झूठ बोलकर जनता को भ्रमित करने की राजनीति ना करें मोदी: गहलोत

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर पलटवार करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री हमेशा की तरह जानबूझकर जनता को भ्रमित कर रहे हैं।

जयपुर। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर पलटवार करते हुए मंगलवार को कहा कि वह झूठ बोलकर राज्य की जनता को भ्रमित करने की राजनीति ना करें। उल्लेखनीय है कि मोदी ने मंगलवार को चूरू में एक जनसभा को संबोधित करते हुए राज्य की कांग्रेस सरकार पर आरोप लगाया कि वह केंद्र सरकार की प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना व आयुष्मान भारत योजना में सहयोग नहीं कर रही है जिस कारण इनका लाभ राज्य के किसानों व आम जनता को नहीं मिला है। गहलोत ने देर रात जारी बयान में इन आरोपों को निराधार व दुर्भाग्यपूर्ण बताया है। गहलोत ने कहा है, 'लोकसभा चुनाव का समय है बेशक प्रधानमंत्री राज्य में आयें, दौरे करें लेकिन मेरा उनसे आग्रह है कि जनता को असत्य बोलकर गुमराह और भ्रमित करने की नकारात्मक राजनीति नहीं करें।'

इसे भी पढ़ें: अशोक गहलोत का सफल ऑपरेशन, PM मोदी ने की अच्छे स्वास्थ्य की कामना

मुख्यमंत्री गहलोत के अनुसार, प्रधानमंत्री हमेशा की तरह जानबूझकर जनता को भ्रमित कर रहे हैं अथवा उनको जानकारी नहीं है कि प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना को लागू करने के लिए प्रत्येक लघु व सीमान्त किसान परिवारों के पंजीयन व सत्यापन हेतु राज्य स्तर पर बनाये गये पोर्टल पर अब तक 9,74,000 पात्र किसान परिवारों का पंजीयन हो चुका है। इसके अलावा भारत सरकार द्वारा संधारित प्रधानमंत्री किसान पोर्टल पर राज्य के 1,27,000 पात्र लघु व सीमान्त किसानों का विवरण अपलोड किया जा चुका है। आयुष्मान भारत योजना संबंधी आरोप पर गहलोत ने कहा कि पूर्ववर्ती भाजपा सरकार ने ही फैसला कर लिया था कि प्रदेश में भामाशाह योजना चल रही है इसलिए आयुष्मान भारत योजना उपयोगी नहीं है। इसलिए हमारी सरकार पर दोष मढना गलत है। हमारी सरकार जन स्वास्थ्य के लिए सदैव संकल्पित रही है।





Disclaimer:प्रभासाक्षी ने इस ख़बर को संपादित नहीं किया है। यह ख़बर पीटीआई-भाषा की फीड से प्रकाशित की गयी है।


नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।