PM Modi पर BBC की डॉक्यूमेंट्री हुई बैन, ओवैसी ने पूछा- गोडसे पर बनी फिल्म पर लगेगा प्रतिबंध?

Owaisi
ANI
अंकित सिंह । Jan 23, 2023 11:02AM
भारत के सरकार ने इस डॉक्यूमेंट्री के ट्वीट और वीडियो को यूट्यूब से हटाने के आदेश जारी कर दिए हैं। इसके साथ ही इससे जुड़े 50 लिंक को भी ब्लॉक कर दिया गया है। यही कारण है कि असदुद्दीन ओवैसी ने सरकार से सवाल पूछे हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लेकर बीबीसी द्वारा बनाए गए डॉक्यूमेंट्री पर प्रतिबंध लग गया है। हालांकि, भारत के विदेश मंत्रालय ने बीबीसी की इस डॉक्यूमेंट्री पर कड़ी प्रतिक्रिया जाहिर की थी और इसे सिर्फ और सिर्फ एजेंडा करार दिया था। भारत की ओर से इस डॉक्यूमेंट्री की आलोचना भी की गई थी। हालांकि, अब इसी को लेकर एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने सवाल उठाए हैं। असदुद्दीन ओवैसी ने सवाल करते हुए पूछा कि क्या प्रधानमंत्री मोदी महात्मा गांधी की हत्या करने वाले गोडसे पर रिलीज होने वाली फिल्म को बैन करेंगे? आपको बता दें कि इंडिया द मोदी क्वेश्चन नाम से एक डॉक्युमेंट्री सीरीज तैयार की गई थी जो कि 2002 के गुजरात दंगों पर आधारित है। 

इसे भी पढ़ें: BBC Documentary: क्या हैं वो आपातकालीन शक्तियां जिसके तहत केंद्र ने PM मोदी की छवि बिगाड़ने वाली BBC डॉक्यूमेंट्री को किया गया ब्लॉक

भारत के सरकार ने इस डॉक्यूमेंट्री के ट्वीट और वीडियो को यूट्यूब से हटाने के आदेश जारी कर दिए हैं। इसके साथ ही इससे जुड़े 50 लिंक को भी ब्लॉक कर दिया गया है। यही कारण है कि असदुद्दीन ओवैसी ने सरकार से सवाल पूछे हैं। उन्होंने अपने सवाल में कहा कि मोदी सरकार ने ब्रिटिश कानूनों के आधार पर भारत में ट्विटर और यूट्यूब पर बीबीसी की डॉक्यूमेंट्री को बैन कर दिया है। इसके साथ ही उन्होंने सवाल किया कि क्या गुजरात दंगों के दौरान लोगों की हत्या करने के लिए अंतरिक्ष या आसमान से लोग आए थे? उन्होंने भाजपा को चुनौती दी और कहा कि गोडसे की फिल्म को बैन करके दिखाएं। उन्होंने साफ तौर पर कहा कि नरेंद्र मोदी महात्मा गांधी से बड़े नहीं हो सकते हैं गांधी और अंबेडकर बड़े हैं ऐसे में गांधी को मारने वाले पर जो फिल्म बन रही है। उस पर बैन लगाएं न। 

इसे भी पढ़ें: BBC Documentary पर मेरा प्रधानमंत्री मोदी की आलोचना वाला पोस्ट ट्विटर ने हटाया: डेरेक ओ ब्रायन

ओवैसी ने कहा कि क्या बीजेपी और आर एस एस एस फिल्म को बैन लगाने के लिए कहेंगे? वहीं, तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) की सांसद महुआ मोइत्रा और डेरेक ओ ब्रायन ने रविवार को केंद्र पर निशाना साधते हुए 2002 के गुजरात दंगों और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर आधारित बीबीसी के विवादास्पद वृत्तचित्र का लिंक टि्वटर पर साझा किया। मोइत्रा ने ट्वीट किया कि बीबीसी की एक रिपोर्ट साझा करने के लिए सरकार द्वारा नागरिकों के ट्विटर लिंक अवरूद्ध कर दिए गए। डेरेक ओ ब्रायन और प्रशांत भूषण के ट्विटर लिंक अवरूद्ध कर दिए गए हैं। मेरा लिंक अभी बाकी है। महुआ मोइत्रा ने कहा कि वह “सेंसरशिप” कतई स्वीकार नहीं करेंगी। ब्रायन ने रविवार के कहा कि उनके लिंक के साथ किया गया एक ट्वीट अब भी है जिसे उन्होंने साझा किया है। 

अन्य न्यूज़