Google Meet पर कपल की शादी देखेंगे 300 मेहमान, जोमैटो के जरिए दिया जाएगा खाना

Wedding
निधि अविनाश । Jan 22, 2022 3:38PM
मेहमानों को गगूल मीट से जुड़ने के लिए एक लिंक और पासवर्ड भेजा जाएगा जिसके जरिए वह घर बैठे शादी देख सकेंगे और आशीवार्द देंगे।संदीपन सरकार वर्धमान जिले के रहने वाले हैं। संदीपन के मुताबिक, अदिति पिछले साल शादी करना चाहती थी लेकिन कोरोना महामारी के कारण उनकी शादी टल गई।

कोरोना महमारी के कारण दुनिया में कई चीजें बदल गई है। जहां लोग एक-दूसरे से सामने से मिलते थे वहीं अब वर्चुअल तरीके से मिलने को मजबुर हो गए है। यहां तक की शादी करने का भी अंदाज काफी बदल गया है। अभी तक केवल ऑफिस और स्कूल की पढ़ाई गगूल मीट के जरिए होती थी लेकिन अब शादी भी गूगल मीट में होगी यह शायद आपने पहली बार ही सनुा होगा। जी हां, एक मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक,  पश्चिम बंगाल के एक कपल ने अपनी शादी गगूल मीट के जरिए करने का फैसला किया है। 24 जनवरी यानि सोमवार को पश्चिम बंगाल के संदीपन सरकार और अदिति दास की शादी मंडप पर नहीं बल्कि गूगल मीट पर होगी। कोरोना प्रोटोकॉल के कारण घर पर केवल 100 लोग ही शादी में शामिल होंगे वहीं 300 मेहमान गूगल मीट के जरिए शादी देखेंगे। 

इसे भी पढ़ें: 'प्यार की खातिर' लड़के ने दी गर्लफ्रेंड की बीमार मां को किडनी, लड़की ने कर ली किसी और से शादी

मेहमानों को दिया गया गगूल मीट का लिंक

बता दें कि मेहमानों को गगूल मीट से जुड़ने के लिए एक लिंक और पासवर्ड भेजा जाएगा जिसके जरिए वह घर बैठे शादी देख सकेंगे और आशीवार्द देंगे।संदीपन सरकार वर्धमान जिले के रहने वाले हैं। संदीपन के मुताबिक, अदिति पिछले साल शादी करना चाहती थी लेकिन कोरोना महामारी के कारण उनकी शादी टल गई। अब नए तरीके से शादी हो रही है जिससे किसी को कोई समस्या नहीं आए और कोरोना के नियमों का भी सही से पालन किया जा सके।गगूल मीट पर होने वाली इस शादी में करीब 300 मेहमान शामिल होंगे और शादी को लाइव देख सकेंगे। खाने की व्यवस्था के लिए जोड़े ने जोमेटो का इंतजाम कराया है और खाना हर मेहमान के घर डिलीवर भी होगा। वर-वधु द्वारा खाने का पेमेंट पहले से ही कर दिया गया होगा।वहीं जोमेटो के अधिकारियों ने कहा कि, ये अच्छा कदम है और बाकी लोगों को भी ऐसा ही करना चाहिए। कंपनी ने कहा है कि उसने टीम बना ली है जो मेहमानों को सही वक्त पर शादी की डिलीवरी का काम संभाल लेगी। 

नोट:कोरोना वायरस से भारत की लड़ाई में हम पूर्ण रूप से सहभागी हैं। इस कठिन समय में अपनी जिम्मेदारी का पूर्णतः पालन करते हुए हमारा हरसंभव प्रयास है कि तथ्यों पर आधारित खबरें ही प्रकाशित हों। हम स्व-अनुशासन में भी हैं और सरकार की ओर से जारी सभी नियमों का पालन भी हमारी पहली प्राथमिकता है।

अन्य न्यूज़